रविवार, दिसम्बर 8, 2019

इसलिए अभिनय नहीं करना चाहते यो यो हनी सिंह, जानिए कारण

Must Read

अमेरिकी राजनयिकों पर चीन ने उठाया जवाबी कदम

अमेरिका द्वारा चीनी राजनयिकों पर लगाए गए प्रतिबंध के मद्देनजर चीन ने जवाबी कदम उठाते हुए अमेरिकी राजनयिकों पर...

जीएसटी परामर्श दिवस पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सुझाव मांगे

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लिए रिटर्न फाइलिंग प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए...

हॉकी : भारतीय महिला जूनियर टीम ने न्यूजीलैंड को 4-1 से हराया

भारतीय महिला जूनियर हॉकी टीम ने यहां जारी तीन देशों के हॉकी टूर्नामेंट में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते...
साक्षी बंसल
पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

गायन के क्षेत्र में परचम लहराने के बाद यो यो हनी सिंह ने अभिनय की दुनिया में कदम रखने की कोशिश की। उन्होंने 2012 की पंजाबी फिल्म ‘मिर्ज़ा: द अनटोल्ड स्टोरी’ से अपने अभिनय की शुरुआत की और दो साल बाद हिमेश रेशमिया के साथ ‘द एक्सपोज़’ से बॉलीवुड में कदम रखा। तब से कैमरे के सामने स्टार बनने के लिए रैप सेंसेशन ने कुछ और समय तक कोशिश की है।

हालांकि, फिल्में जैसे ‘तू मेरा 22 में तेरा 22’ और ‘जोरावर’ – जो आज तक की सबसे महंगी पंजाबी फिल्मों में से एक के रूप में विपणन की जाती हैं – ने उन्हें वो लोक्रप्रियता हासिल करने में मदद नहीं की जिसकी उन्हें उम्मीद थी। सिंह अब आश्वस्त हैं कि वह अब फिल्मों में अभिनय नहीं करना चाहते हैं।

View this post on Instagram

Am bringing sexy back!

A post shared by Yo Yo Honey Singh (@yyhsofficial) on

उन्होंने IANS को बताया-“मैंने अभिनय की कोशिश की और मुझे एहसास हुआ कि यह मेरी बसकी बात नहीं है। मुझे लगता है कि मुझे ये नहीं करना चाहिए।”

हालांकि, गायक अपने संगीत को जारी रखेंगे। न केवल वह नियमित रूप से हिट एल्बम गीत दे रहे हैं, बल्कि उनके रैप नंबरों ने फिल्म साउंडट्रैक की सफलता में भी बड़ा योगदान दिया है जैसे ‘कॉकटेल’, ‘चेन्नई एक्सप्रेस’, ‘खिलाडी 786’, ‘बॉस’ और ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ – इसके लिए उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय संगीत अकादमी पुरस्कार (IIFA) सहित कई लोकप्रिय पुरस्कार समारोहों में सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक की ट्रॉफी जीती है। यदि प्रशंसकों की उम्मीदें प्रत्येक नई रिलीज के साथ बढ़ी हैं, तो सिंह इससे कूल हैं।

View this post on Instagram

Kaim o Cam !! Camouflage vibe

A post shared by Yo Yo Honey Singh (@yyhsofficial) on

उन्होंने कहा-“मैं इसे एक दबाव के रूप में नहीं लेता हूं। एक अच्छा गीत बनाना मेरे लिए अधिक महत्वपूर्ण है, और मैं गाने के हिट होने या न होने के बारे में कोई तनाव नहीं लेता। मुझे वास्तव में मेरे दिल की गहराई से गाने बनाना पसंद है, और यह हिट होते है या नहीं, यह लोगों पर निर्भर करता है।”

पिछले कुछ वर्षो से, इंडस्ट्री में कई रैपर आ गए हैं जैसे बादशाह, रफ़्तार और इक्का और कमाल की बात ये है कि ये सभी हिट पे हिट गाने दिए जा रहे हैं। तो क्या अब बॉलीवुड संगीत कटक प्रतियोगिता के बारे में हो गया है?

View this post on Instagram

This is how we roll!! #yoyohoneysingh #yyhs

A post shared by Yo Yo Honey Singh (@yyhsofficial) on

सिंह ने कहा, “मेरा मानना है कि अगर कोई व्यक्ति कई संगीत बनाता है, या काम करता है तो उनके लिए कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है। यदि आप कई चीजें कर रहे हैं तो आपके लिए कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है।” क्या स्टारडम असुरक्षा लाता है? “मुझे लगता है कि बयान गलत है। न सिर्फ सितारे – कोई भी असुरक्षित हो सकता है। यह प्रकृति का एक हिस्सा है, और असुरक्षा मेरे स्वभाव का हिस्सा नहीं है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

अमेरिकी राजनयिकों पर चीन ने उठाया जवाबी कदम

अमेरिका द्वारा चीनी राजनयिकों पर लगाए गए प्रतिबंध के मद्देनजर चीन ने जवाबी कदम उठाते हुए अमेरिकी राजनयिकों पर...

जीएसटी परामर्श दिवस पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सुझाव मांगे

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के लिए रिटर्न फाइलिंग प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए सुझाव आमंत्रित किए हैं। केंद्र...

हॉकी : भारतीय महिला जूनियर टीम ने न्यूजीलैंड को 4-1 से हराया

भारतीय महिला जूनियर हॉकी टीम ने यहां जारी तीन देशों के हॉकी टूर्नामेंट में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए शनिवार को न्यूजीलैंड को...

दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए इंग्लैंड की टेस्ट टीम में लौटे जेम्स एंडरसन और मार्क वुड

इसी महीने होने वाले दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए जेम्स एंडरसन इंग्लैंड की टेस्ट टीम में वापसी हुई है। एंडरसन एशेज सीरीज के पहले...

मायावती ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मिलकर महिला सुरक्षा पर कड़े कदम उठाने की अपील

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद उत्तर प्रदेश के विपक्षी दलों ने सड़क पर उतर कर सरकार के खिलाफ मोर्चेबंदी की। सपा, कांग्रेस...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -