Mon. Mar 4th, 2024
    धर्म परिवर्तन

    योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से उत्तर प्रदेश में पहली बार धर्म परिवर्तन की बात सामने आई है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुस्लिम बाहुल्य रामपुर में एक हिन्दू को धर्म परिवर्तन करने के लिए बाध्य किए जाने की बात सामने आई है। सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में एक शख्स ने खुद को उत्तर प्रदेश के रामपुर इलाके का निवासी बताया है और उसने परवेज खान नाम के व्यक्ति पर जबरदस्ती धर्म परिवर्तन और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इस वीडियो को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ और उत्तर प्रदेश पुलिस के साथ टैग करके शेयर किया गया है। हालाँकि इस वीडियो की सत्यता के प्रत्यक्ष प्रमाण नहीं मिले हैं।

    वीडियो में नजर आ रहे व्यक्ति का बयान

    भाईजी नमस्कार! पुल के नीचे जिला सहकारी बैंक के बराबर में टैक्सी स्टैंड रोड, सिविल लाइंस, रामपुर से हूँ। मेरे पिताजी जिनका नाम देवी राम है। हमारी खाने की दुकान है जो लगभग मेरे पिता तीस वर्ष से चला रहे हैं। एक मुस्लिम व्यक्ति जिसका नाम परवेज खान है हामिद इंटर कॉलेज का निवासी है, जो मूल रूप से बदमाश और दबंगई करता है। ये हमारा धर्म परिवर्तन कराना चाहता है। हमसे कहता है कि दुकान में बीफ की दुकान खोलो और मेरे पिता के मना करने पर उन्हें जान से मारने की धमकी देता है। कहता है तेरी दुकान छीन लूंगा और अपने ताले डाल दूंगा। पुल के नीचे केनरा बैंक के सामने चालीस मुस्लिम दुकान है लेकिन एक हिंदू भाई की दुकान है जिसपर धर्म परिवर्तन करने और जान से मारने की धमकी देता है और दुकान छीनने की कोशिश कर रहा है। आपसे अनुरोध है कि अधिक से अधिक शेयर करें और मेरे भाइयों एक हिंदू इंसान का धर्म परिवर्तन होने से बचा लें, उसे रोक लें। आपसे मैं यही विनती करता हूं कि इसे अधिक से अधिक शेयर करें और अधिकारियों तक पहुंचाए। एक हिन्दू भाई को जबरन मुस्लिम बनाने की कोशिश की जा रही है।

    https://twitter.com/ladyshantidoot/status/907935380355170304

     

    By हिमांशु पांडेय

    हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है।मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।