शुक्रवार, फ़रवरी 28, 2020

यूपी-बिहार ने भाजपा को 2014 में जिताया था, यूपी-बिहार ही 2019 में हराएंगे: शरद यादव

Must Read

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक...
आदर्श कुमार
आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

पूर्व जेडीयू नेता शरद यादव ने 2019 में भाजपा की वापसी की उम्मीदों को खारिज करते हुए कहा कि यूपी-बिहार ने 2014 में भाजपा को जिताया था और यूपी-बिहार ही 2019 में भाजपा को हराएंगे।

शरद यादव ने ये भी दावा किया कि आने वाले 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस भाजपा को जबरदस्त तरीके से हराएगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम के चुनाव परिणाम 2019 में भाजपा के पराजय की नींव रखेंगे।

पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने 2014 में जनता से किये एक भी वादे पुरे नहीं किये है और जनता उनसे अपने एक एक वादे का हिसाब लेगी 2019 में।

‘चायवाला’ और राम मंदिर जैसे मुद्दों के सवाल पर पूर्व जेडीयू नेता ने कहा कि अब जनता भावनात्मक बातों में नहीं आएगी। उनके पास कोई उपलब्धि नहीं इन चार सालों की तो फिर से राम मंदिर का मुद्दा उछाल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि जनता तंग आ चुकी है झूठ से इसलिए उसने मन बना लिया है भाजपा को हराने का। अगले विधानसभा चुनावों में भाजपा को एक भी राज्य नहीं मिलेगा और ये चुनाव भाजपा की इस ग़लतफ़हमी को दूर कर देगा कि वो 2019 में आ रहे हैं।

मोदी विरोधी गठबंधन पर सवाल के जवाब में शरद यादव ने कहा कि ये गठबंधन वक़्त की जरूरत है और 2019 से पहले ये सभी समान विचारधारा वाली पार्टियों का महागठबंधन बन जाएगा।

यूपी-बिहार के समीकरण के सवाल पर उन्होंने कहा कि एनडीए ने इन राज्यों की 120 सीटों में से 104 पर कब्जा किया था लेकिन समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से उनकी राह मुश्किल हो जायेगी। बिहार में भले ही नीतीश एनडीए में वापस आ गए हैं लेकिन विपक्ष के नेता भी एनडीए के खिलाफ अपनी रणनीति पर काम कर रहे हैं।

उन्होंने भाजपा के वादों का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा ने नौकरी का वादा किया था, महंगाई कम करने का वादा किया था, गंगा साफ़ करने का वादा किया था लेकिन एक भी वादा पूरा नहीं हुआ। नोटबंदी और जीएसटी ने आम लोगों की कमर तोड़ दी। भाजपा को इन सब का खामियाजा भुगतना पड़ेगा 2019 में।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली हिंसा पर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल: “पुलिस स्थिति संभालने में विफल, सेना को बुलाया जाए”

दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने आज सुबह कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के उत्तरपूर्वी हिस्से में...

आयुष्मान खुराना: “मैं एक प्रशिक्षित गायक हूं क्योंकि मैं एक ट्रेन में गाता था”

आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) ने खुलासा किया है कि उन्होंने अपने बॉलीवुड डेब्यू के लिए सही प्रोजेक्ट लेने के लिए 5-6 फिल्मों को अस्वीकार...

जाफराबाद में एंटी-सीएए प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम किया, DMRC ने मेट्रो स्टेशन को किया बंद

केंद्र की ओर से जारी नागरिकता (संशोधन) अधिनियम (CAA) को रद्द करने की मांग करते हुए 500 से अधिक लोगों, ज्यादातर महिलाओं ने शनिवार...

‘हैदराबाद में शाहीन बाग जैसे विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी’: पुलिस आयुक्त

हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार ने शनिवार को कहा कि शहर में "शाहीन बाग़ जैसा" विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी जाएगी। उनका...

निर्भया मामला: आरोपी विनय नें खुद को चोट पहुंचाने की की कोशिश, इलाज के लिए माँगा समय

2012 में दिल्ली में हुए निर्भया मामले (Nirbhaya Case) में चार आरोपियों में से एक विनय नें आज जेल की दिवार से खुद को...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -