Wed. Apr 24th, 2024
    प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के एक दिन बाद, उन्होंने भी मध्यम लक्षणों के साथ कोविड के लिए सकारात्मक परीक्षण किया है।

    ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी(एआईसीसी) की महासचिव प्रिंयका गांधी वार्डा के वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने पर सस्पेंस बरकरार रखते हुए कांग्रेस ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के नौ उम्मीदवारों की नई  सूची जारी की।

    वाराणसी के अलावा, कांग्रेस को लखनऊ से अपने उम्मीदवार के नाम देने बाकी हैं, जहां से भाजपा ने अपने सांसद राजनाथ सिंह को मैदान में उतारा हैं। सूत्रों के अनुसार, बॉलीवुड स्टार और भाजपा के पूर्व सांसद शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा, जिन्होंने हाल ही में कांग्रेस का हाथ थामा हैं, वह पटना साहिब से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ सकती हैं। वह कांग्रेस के समर्थन से लखनऊ से सपा-बसपा-आरएलडी के गठबंधन के उम्मीदवार के रूप में मैदान में उतर सकती हैं।

    मोहनलालगंज सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार रामाशंकर भार्गव को बसपा प्रमुख मायावती के करीबी सहयोगी आरके चौधरी के साथ बदल दिया गया हैं। अम्बेड़कर नगर सीट से, पार्टी ने उम्मेद सिंह निषाद को मैदान में उतारा हैं। अपना दल के कृष्णा पटेल को गोंडा जिले से मैदान में उतारा गया हैं। एक सीट जिसे अपना दल को दिया गया हैं।

    एक और टर्नकोट और पूर्व समाजवादी पार्टी(सपा) को नेता, राजकिशोर सिंह को बस्ती सीट और राजेश मिश्रा को सलेमपुर से मैदान में उतारा हैं। देवराज मिश्रा को जोनपुर से, अजित प्रताप कुशवाहा को गाज़ीपुर से, शीव कन्या को कुशवाहा को चंदौली से और एक और भाजपा प्रत्याशी और पूर्व भाजपा नेता रमाकांत यादव को भदोही सांसदीय सीट से मैदान में उतारा हैं। पूर्वांचल में यादव को एक मजूत नेता माना जाता हैं।

    सपा-बसपा-आरएलडी गठबंधन के बड़े नामों के लिए कांग्रेस पहले ही सात सीट छोड़ चुकी हैं। महागठबंधन ने अमेठी और रायबरेली की दो सीटों को छोड़ दिया हैं। जहां से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और चयरपर्सन सोनिया गांधी लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *