यूके नियामक ने फेसबुक पर लगाया 5 लाख पाउंड का जुर्माना

मार्क जुकरबर्ग फेसबुक

यूनाइटेड किंगडम के सूचना आयुक्त कार्यालय (आईसीओ) ने फेसबुक पर वर्ष 2007 से लेकर 2014 तक फेसबुक के करोड़ों यूजरों का डाटा सुरक्षित न रख पाने के लिए भारी जुर्माना लगाया है।

दा गार्डियन के मुताबिक यूके के नियामक ने फेसबुक पर 5 लाख पाउंड (करीब 6,46,135 डॉलर) का जुर्माना ठोंका है। सूचना आयुक्त कार्यालय ने बताया है कि फेसबुक पर देश के नियमों के हिसाब से अधिकतम जुर्माना लगाया गया है।

आईसीओ ने बताया है कि “फेसबुक के ऊपर की गयी यह कार्यवाही एक लंबी जांच का नतीजा है, जिसमें यह पाया गया है कि फेसबुक ने यूजरों के डाटा को राजनीतिक उद्देश्य के लिए इस्तेमाल किया है। फेसबुक पर यह जुर्माना उसके ऊपर दोष सिद्ध हो जाने की दशा में ही लगाया गया है।”

आईसीओ ने बताया है कि फेसबुक ने 2007 से 2014 तक करोड़ों यूजरों के डाटा का विश्लेषण किया है। इसके बाद उसने विश्लेषण किए गए आँकड़ों के जरिये राजनैतिक लोगों को फायदा पहुंचाया है। इसी के साथ फेसबुक ने थर्ड पार्टी एप्लिकेशन को भी यूजरों के डाटा का इस्तेमाल करने की अनुमति प्रदान कराई है।

आईओसी के अनुसार फेसबुक लोगों की निजी जानकारी की सुरक्षा करने में असमर्थ रहा है। फेसबुक द्वारा उसकी वेबसाइट में इस तरह की कमियाँ वर्ष 2015 में ही पता लगा ली गईं थी, बावजूद इसके फेसबुक ने अपनी सुरक्षा प्रणाली को और मजबूत करने के लिए किसी भी तरह का उचित कदम नहीं उठाया।

इसी के साथ आईओसी ने फेसबुक पर गंभीर आरोप लगते हुए कहा है कि एससीएल ग्रुप जो कि कैम्ब्रिज अनलिटिका की पितृ कंपनी है और इस पर 2016 में अमेरिकी चुनावों को प्रभावित करने के आरोप लगे हैं, फेसबुक ने इसे वर्ष 2018 तक बैन नहीं किया।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here