Tue. Apr 16th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प और मून जे इन

    दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन और उनके अमेरिकी समकक्षी डोनाल्ड ट्रम्प इस महीने के अंत में संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र के इतर मुलाकात कर सकते हैं। उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम का निरस्त्रीकरण करने के लिए उत्तर कोरे के साथ नए सिरे से वार्ता शुरू हो सकती है।

    दोनों पक्षों के बीच शिखर सम्मेलन के लिए विस्तार में टाइम टेबल पर परामर्श किया जा रहा है। 24 सितम्बर को मून यूएन के सत्र को संबोधित करेंगे। वह यूएन के महासचिव और अन्य देशो के नेताओं के सतह भी द्विपक्षीय वार्ता का आयोजन करेंगे।

    मून-ट्रम्प की मुलाकात में उत्तर कोरिया का मुद्दा सर्वोच्च स्थान पर रहेगा। मून के राष्ट्रपति दफ्तर के प्रवक्ता को मिन जुंग ने कहा कि “हम इस स्थिति में नहीं है कि विशिष्ट एजेंडा के मुद्दों पर मीडिया में बोल सके। लेकिन उन्होंने संकेत दिया कि कोरियाई प्रायद्वीप में शांति की तरफ धीरे धीरे बढ़ना शुरू हो गया है।

    उन्होंने हाल ही में उत्तर कोरिया और अमेरिकी अधिकारियो के बयान का हवाला दिया था। उत्तर कोरिया के उप विदेश मंत्री चोए सोन हुई ने सितम्बर के अंत में वांशिगटन के साथ वर्किंग लेवल की वार्ता को बहाल करने का प्रस्ताव रखा था। कई विश्लेशको को अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पद से जॉन बोल्टन के हट जाने से वार्ता में सकारात्मक सन्देश मिलने की उम्मीद है।

    मून और ट्रम्प संवेदनशील मुद्दों मसलन जापान और दक्षिण कोरिया के बीच जारी व्यापार विवाद पर भी चर्चा कर सकते हैं। मून और ट्रम्प ने 30 जून को शिखर समेम्लन में मुलाकात की थी। इसके बाद वह सेना रहित इलाके तक गए थे। यहाँ उन्होंने उत्तर कोरिया नेता किम जोंग उन से भी मुलाकात की थी।

    बुधवार को केसीएनए की मीडिया रिपोर्ट के मुतबिक, उत्तर कोरिया ने सुपर लार्ज मल्टीप्ल राकेट लांचर का परिक्षण अपने नेता किम की निगरानी में किया है। मंगलवार को दक्षिण कोरिया के अधिकारियो ने कहा कि प्योंगयांग ने शोर्ट रेंज मिसाइल का परिक्षण किया था।

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *