Sat. Jul 13th, 2024
    युवा ना तो जातिवाद के बहकावे में आने वाले हैं और ना ही परिवारवाद के, पीएम मोदी ने कहा

    भाजपा गुजरात में 7वीं बार सरकार बना रही है। जीत के बाद जनता और कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करने के लिए गुरुवार शाम दिल्ली के भाजपा कार्यालय में पीएम मोदी पहुंचे। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जनता जनार्दन के सामने नतमस्तक हूं, ये जनादेश अभिभूत करने वाला है।

    जहां भारतीय जनता पार्टी प्रत्यक्ष नहीं जीती, वहां भाजपा का वोट शेयर आपके स्नेह का साक्षी है। उन्होंने कहा कि मैं गुजरात, हिमाचल और दिल्ली की जनता का आभार जताता हूं। आपका प्यार उपचुनावों में भी दिखा। यूपी के रामपुर में भाजपा जीती है। बिहार के चुनावों में भाजपा का प्रदर्शन आने वाले दिनों का प्रदर्शन कर रहा है।

    पीएम ने कहा मैं चुनाव आयोग का भी आभार व्यक्त करता हूं। एक भी पोलिंग बूथ पर रीपोल कराने की नौबत नहीं आई है। मतलब कि शांति पूर्वक लोकतंत्र की मूल भावना को स्वीकार करते हुए मतदाताओं ने ताकत दी है। इसके लिए चुनाव आयोग को बधाई।

    मोदी ने कहा कि चुनावों के दौरान मैंने गुजरात की जनता से कहा था, इस बार नरेंद्र का रिकॉर्ड टूटना चाहिए। मैंने वादा किया था कि भूपेंद्र नरेंद्र का रिकॉर्ड तोड़ें, इसके लिए मैं जी जान से कोशिश करूंगा। जनता ने गुजरात के इतिहास का सबसे प्रचंड जनादेश भाजपा को देकर नया इतिहास रच दिया है। ढाई दशक से लगातार सरकार में रहने के बावजूद ऐसा प्यार अभूतपूर्व है। लोगों ने जाति-वर्ग आदि विभाजन से ऊपर उठकर भाजपा को वोट दिया।

    उन्होंने कहा, युवा भाजपा की विकास वाली योजनाएं चाहते हैं। युवाओं को न जातिवाद चाहिए न परिवारवाद। युवाओं का दिल विजन और विकास से ही जीता जा सकता है। जब महामारी के घोर संकट के बीच बिहार में चुनाव हुए थे, तब जनता ने भाजपा को आशीर्वाद दिया। महामारी के बाद यूपी समेत तमाम राज्यों में चुनाव हुए तब भी जनता ने भाजपा को चुना। आज जब भारत विकसित भारत की ओर बढ़ रहा है, तब जनता का भरोसा भाजपा पर है।

    पिछले आठ वर्षों में कार्य और कार्यशैली का बदलाव आया है। हमने गरीबों के लिए घर, शौचालय, सिलेंडर जैसी मूल सुविधाएं जुटाईं। आज जो भी सरकारी लाभ है, वह हर वर्ग के हकदार तक तेजी से पहुंचाने का प्रयास हो रहा है। पूरा का पूरा पहुंचे, इसके लिए टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है। किस वर्ग या समुदाय में कितने वोट हैं, इस आधार पर हम सरकार नहीं चलाते। इसके हमें सकारात्मक नतीजे देखने को मिल रहे हैं।

    उन्होंने कहा, हम सिर्फ घोषणा करने के लिए घोषणा नहीं करते। हमारी हर घोषणा के पीछे एक रोडमैप होता है। देश आज शॉर्टकट नहीं चाहता। देश का मतदाता इतना जागरूक है, क्या उसके हित में है क्या उसके अहित में है, वह सब जानता है। वह शॉर्टकट की राजनीति का नुकसान जानता है। देश समृद्ध होगा तो सबकी समृद्धि तय है। हमारे पूर्वजों के पास अनुभव का अकूत भंडार था। हमारे पूर्वजों ने आमदनी अठन्नी खर्चा रुपया वाली कहावत दी है।

    भाजपा को मिला जनसमर्थन इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह ऐसे समय में आया है, जब भारत अमृत काल में प्रवेश कर गया है। यह दिखाता है कि आने वाले 25 साल सिर्फ विकास की राजनीति के है। भाजपा को मिला समर्थन नई आकांक्षाओं और युवा सोच का प्रतीक है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *