युजवेंद्र चहल: विराट कोहली, एमएस धोनी और रोहित शर्मा मेरा और कुलदीप यादव का मार्गदर्शन करते हैं

कुलदीप यादव- युजवेंद्र चहल

ऑस्ट्र्लिया के खिलाफ मार्च में घर में मिली वनडे सीरीज में 3-2 से हार मिली थी, लेकिन भारतीय टीम को पिछले कुछ सालो से एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे प्रभावी टीमो में से एक माना जाता है। इसकी मुख्य वजह भारत की स्पिन जोड़ी युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव को भी कह सकते है। अपने डेब्यू के बाद से, इन दोनो खिलाड़ियो ने साथ मिलकर 159 विकेट चटकाए है और दक्षिण-अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज जीतने में इन दोनो ने अहम भूमिका निभाई थी।

चहल की राय है कि इस जोड़ी ने जिस भरोसे के साथ कामयाबी हासिल की है, उसमें उनकी बड़ी भूमिका है। चहल ने अपनी बेवसाइट युजवेंद्रचहल.क्लब के लांच पर कहा, ” हम दोनों एक-दूसरे को लंबे समय से जानते हैं।”

उन्होने कहा, ” हम साझेदारी में गेंदबाजी करते है। जब वह पहले गेंदबाजी करने जाते है तो वह मुझे बताते के है कि पहले किन क्षेत्रो को हिट करना है अगर मैं जाता हूम तो मैं भी ऐसा ही करता हूं। हम कभी उस चीज के बारे में नही सोचते जो हम कर नही सकते और केवल अपने मौके ढूंढते है।”

चहल ने कहा की  टीम में अन्य खिलाड़ियो का अनुभव हमारे लिए मददगार साबित होता है। इसमें रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा शामिल थे, जिनकी भारतीय सीमित ओवरों में उपस्थिति अब कम हो गई है। चहल ने कहा, ” यह गलत है कि हमारी तुलना उनसे की जा रही है। मैंने अश्विन के साथ ज्यादा क्रिकेट नही खेली है, लेकिन जड्डू पा के साथ मैंन क्रिकेट खेली है और जब भी मैं उनसे कोई सुझाव मांगता हूं तो उन्होने मुझे कभी मना नही किया है।”

चहल ने आगे कहा, ” माही भाई भी स्टंप के पीछे से हमारी मदद करते है और बताते रहते है कि विकेट कैसे बर्ताव कर रही है। उनके साथ विराट और रोहित भाई भी होते है जो हमारी मदद करते है। हमारी टीम में कई कप्तान है जो एक दूसरे की मदद करते है और यह हमारी सफलता की कुंजी है जिसका मै और कुलदीप आनंद ले रहे है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here