Thu. Jun 13th, 2024
    मोहम्मद शमी

    मोहम्मद शमी विश्वकप 2015 जो ऑस्ट्रेलिया में आयोजित हुआ था उसमें भारत के लिए दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे और वह जानते है वर्ल्ड स्टेड में किस प्रकार प्रदर्शन करना है। 2015 विश्वकप में 17 विकेट के साथ , शमी ने टीम अपनी टीम को सेमीफाइनल तक पहुचाने में अहम भूमिका निभाई थी और बंगाल का पेसर पिछले छह महीने से एक शानदार फॉर्म में नजर आ रहा है।

    शमी ने पिछले अक्टूबर से खेले 13 वनडे मैचो में 22 विकेट लिए है और इसी अंतराल में सामान्य विकेट भुवनेश्वर कुमार के नाम भी है। शमी जो किंग्स इलेवन पंजाब की टीम का हिस्सा है वह इस समय एक अच्छी रफ्तार के साथ गेंदबाजी कर रहे है और इस तेज का पूरा ध्यान अपनी फिटनेस पर है, क्योंकि फिटनेस ही ऐसी चीज है जिससे उनके खेल में सुधार और लय मिला है।”

    मेरा पूरा ध्यान मेरी फिटनेस पर है और में इस पर पिछले 18 महीने से काम कर रहा हूं। मेरा लक्ष्य अपने खेल में सुधार लाना और टीम के लिए अच्छा करना है। मेरी इंजरी के बाद, मैं ज्यादा समय तक एकदिवसीय मैच नही खेल पाया हूं। लेकिन पिछले छह महीने में मेरे इंदर कुछ शानदार बदलाव आए है। मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं। मैंने अपना वजन कम किया है और मेरा शरीर लय में है, ठीक वैसे ही जैसे मेरे करियर के शुरुआत में था। मेरा लक्ष्य है की में विश्वकप जैसे टूर्नामेंट में अपनी यही लय जारी रखूं।”

    उन्होंने कहा, “अब मेरी गेंदबाजी में तीन साल पहले की गेंदबाजी की तुलना में काफी अंतर है। यह कोचों के साथ कड़ी मेहनत का नतीजा है और भारतीय टीम ने भी मुझे आत्मविश्वास दिया है। पूरी टीम ने मेरा समर्थन किया क्योंकि मैंने अपने फिटनेस स्तर में सुधार करने की कोशिश की और इसमें एनसीए, टीम प्रबंधन और अन्य कर्मचारी भी शामिल थे। मैंने इसे अपने दिल से एक चुनौती के रूप में लिया और मैंने चुनौती को स्वीकार किया और परिणाम दिख रहे हैं।”

    शमी ने आगे कहा, ” मैं बहुत खुश है की मुझे विश्वकप की टीम में दूसरा मौका मिला है। अल्लाह का शुक्र है। चयनकर्ताओ ने मेरे ऊपर विश्वास दिखाया है। जहां तक मेरे प्रदर्शन की बात आती है, मैंने 2015 विश्व कप में जिस तरह का प्रदर्शन किया, मैंने अपना आत्मविश्वास कैसे बनाया, मुझे उम्मीद है कि इस साल विश्व कप के लिए मेरा आत्मविश्वास उम्मीदों से अधिक होगा। जो भी मैंने पिछले 6 या 8 महीने में हासिल किया है, मैं उसी तरह विश्व कप में आत्मविश्वास को आगे बढ़ाना चाहता हूं और भारतीय टीम के लिए अच्छा करना चाहता हूं।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *