Thu. Dec 8th, 2022
    मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल के फायदे

    पुराने समय से ही मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल को सुन्दरता निखारने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। गुलाब की पत्तियों को पानी में कुछ समय के लिए भिगोकर गुलाब जल बनाया जाता है। यह त्वचा पर नर्म रहता है और उसे ताजगी प्रदान करता है। इसके स्वास्थ्य और खूबसूरती के लिए कई लाभ होते हैं।

    दूसरी और, मुल्तानी मिट्टी में क्लींजिंग, मॉइस्चराइजिंग और टोनिंग के गुण होते हैं। इसके अतिरिक्त इसके अन्य लाभ भी होते हैं लेकिन जब मुल्तानी मिटटी और गुलाब जल को साथ में प्रयोग किया जाता है तो त्वचा और बालों पर इसके चमत्कारी लाभ होते हैं।

    आइये आपको मुल्तानी मिटटी और गुलाब जल को प्रयोग करने के फायदों के बारे में बताते हैं।

    मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल के फायदे

    मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल के फायदे चेहरे के लिए

    गुलाब जल और मुल्तानी मिटटी प्रक्रितक क्लेंज़र होते हैं। आप इन दोनों को मिलाकर अपने चेहरे के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं और इसके लाभों का परिणाम देख सकते हैं। यह आपकी त्वचा से गन्दगी साफ़ कर देता है जिससे रोम छिद्र बंद नहीं होते हैं।

    यदि आप इस मिश्रण में ग्लिसरीन मिला लेते हैं तो आप अपनी रूखी बेजान त्वचा को मुलायम और चमकदार बना सकते हैं। गुलाब जल, मुल्तानी मिटटी और ग्लिसरीन के साथ नीम पाउडर मिला लें और इसे अपने चेहरे पर लगायें जिससे आपकी त्वचा पर मुंहासे और फुंसी नहीं होंगे। नीम में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो त्वचा के रोगों से निजात दिलाते हैं।

    मुंहासे और फुंसियों से मुक्त त्वचा पाने के लिए ओटमील पाउडर, चन्दन, गुलाब जल और मुल्तानी मिटटी का मिश्रण तैयार करके अपने चेहरे पर लगा लें। यह आपके चेहरे के लिए सर्वश्रेष्ठ फेस पैक होगा।

    मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल के फायदे बालों के लिए

    गुलाब जल और मुल्तानी मिटटी का मिश्रण बालों के लिए भी बहुत अच्छा होता है। इन दोनों ही पदार्थों में तेल सोख लेने की क्षमता होती है इसलिए तैलीय बालों से निजात पाने के लिए गुलाब जल और मुल्तानी मिट्टी का मिश्रण तैयार करके बालों में लगा लें। इससे आपके बाल मुलायम और चमकदार बन जायेंगे।

    तैलीय बालों में सामान्य बालों की तुलना में बालो की झड़ने की समस्या अधिक होती है तो इस मिश्रण का प्रयोग करने से यह समस्या दूर हो जाएगी और आपके बाल अधिक स्वस्थ बन जायेंगे।

    मुल्तानी मिटटी और गुलाब जल का बॉडी वाश

    गुलाब जल ताजगी प्रदान करने के लिए जाना जाता है और पुराने समय में रानियाँ इसे नहाने के लिए इस्तेमाल करती थीं। दूसरी ओर, मुल्तानी मिट्टी में ठंडक प्रदान करने के गुण पाए जाते हैं।

    यह शरीर का तापमान गिराकर सामान्य कर देता है जिससे आपको अधिक गर्मी की अनुभूति नहीं होती है। इसकी खुशबू से आपकी मस्तिष्क को शांति भी मिलती है।

    गुलाब जल और मुल्तानी मिटटी आपके शरीर में सकारात्मक उर्जा का निर्वहन करते हैं जिससे आप शांत और ताज़ा महसूस करते हैं। यह कई तरह त्वचा सम्बन्धी समस्याओ जैसे कि खुजली और जलन से भी निजात दिलाते हैं।

    3 thoughts on “मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल लगाने के फायदे, तरीका”
    1. मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल को रात में लगाकर सोने से क्या होता है?

    2. हमारे चेहरे पर फुंसी टाइप का हो गया है कैसे साफ होगा और सर का बाल झड़ रहा है इसका फायदा आप बताइए

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *