2018 में भारतीय अरबपति मुकेश अंबानी ने किया सबसे ज्यादा दान; फिलान्थ्रोपी लिस्ट में पहला स्थान

मुकेश अंबानी भारत अर्थव्यवस्था
bitcoin trading

भारतीय व्यवसायी मुकेश अंबानी जोकि ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरे एशिया में सबसे अमीर व्यक्ति हैं, ने 2018 में दान करने वालों की सूचि में पहला स्थान पाया है। उनके बाद दूसरा स्थान अजय पिरामल ने पाया है। बतादे की कुछ समय पहले ही अजय पिरमल के बेटे के साथ मुकेश अंबानी की बेटी की शादी हुई है।

दान राशी की जानकारी :

जारी की गयी सूचि के अनुसार मुकेश अंबानी और उनके परिवार ने मिलकर अक्टूबर 2017 से सितम्बर 2018 तक कुल 437 करोड़ रूपए दान किये। उनके बाद अजय पिरामल ने इस अवधि में कुल 200 करोड़ की धनराशी का दान किया। यह सूचि उन दानकर्ताओं की है जिन्होंने इस अवधि में 10 करोड़ रुपयों से अधिक का दान किया। इन 437 करोड़ रुपयों के अलावा अंबानी ने 71 करोड़ रूपए केरला में बाढ़ग्रसित लोगों के लिए भी दान किये थे।

मुकेश अंबानी ने 2018 में जैकमा को पछाड़ा :

जहां कई देशों के लोग संपत्ति गँवा रहे थे वही भारत के सबसे अमीर और रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी की दौलत में इस साल बढ़ोतरी हुई। अंबानी की दौलत 2018 में 28 हजार करोड़ रुपए बढ़ी। अंबानी की दौलत बढ़ने में उनकी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर का बड़ा योगदान रहा। इस कारण अंबानी एशिया के सबसे अमीर इंसान भी बन गए। उन्होंने अलीबाबा ग्रुप के जैक मा को पीछे छोड़ दिया।

2018 में कई अमीरों ने गंवाई संपत्ति :

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक एशिया के 500 अमीरों में से 128 अमीरों ने 2018 में 9.5 लाख करोड़ रुपए की दौलत गंवा दी। 2012 के बाद ब्लूमबर्ग बिलोनेयर इंडेक्स में इतनी बड़ी गिरावट पहली बार आई है।

इस बीच, भारत के 23 सबसे अमीर लोगों ने कुल $ 21 अरब गँवा दिए। लक्ष्मी मित्तल, जो दुनिया की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी का नियंत्रणकर रहे है, उन्होंने $ 5.6 अरब का नुकसान उठाया, जोकि उनकी कुल संपत्ति का 29 प्रतिशत है। इनके बाद दुनिया के चौथे सबसे बड़े जेनेरिक दवा निर्माता सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज के संस्थापक दिलीप शांघवी थे, जिनकी संपत्ति में 4.6 अरब डॉलर की गिरावट आई है। 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here