‘मिशन मंगल’ फेम नित्या मेनन: मैं पहले एक अभिनेत्री हूँ, हीरोइन बाद में

'मिशन मंगल' फेम नित्या मेनन: मैं पहले एक अभिनेत्री हूँ, हीरोइन बाद में
bitcoin trading

नित्या मेनन फिल्म ‘मिशन मंगल‘ से अपना बॉलीवुड डेब्यू करने वाली हैं जिसमे अक्षय कुमार, विद्या बालन, सोनाक्षी सिन्हा, तापसी पन्नू, कीर्ति कुल्हारी और शरमन जोशी भी नज़र आएंगे। नित्या साउथ इंडस्ट्री में एक बड़ा नाम हैं जिन्होंने कन्नड़, तेलगु, तमिल और मलयालम चारों भाषाओँ में काम किया है।

तीन बेस्ट एक्ट्रेस फिल्मफेयर जीतने वाली नित्या को काफी समय से हिंदी फिल्मो के प्रस्ताव आते रहे हैं लेकिन उन्होंने ‘मिशन मंगल’ को ही चुना। वह कहती हैं-“लेकिन मैं हमेशा ही चूसी रही हूँ, मैं केवल इसलिए फिल्म नहीं करना चाहती थी क्योंकि वह एक बॉलीवुड प्रोजेक्ट है। मेरी यही सोच ‘मिशन मंगल’ को साइन करते वक़्त भी थी। निर्देशक जगन शक्ति को पता था कि वो मुझे क्यों कास्ट करना चाहते हैं। ये कोई मामूली फिल्म नहीं है। मैं इसे बॉलीवुड डेब्यू की तरह नहीं सोचती, मेरे लिए हमेशा विषय पहले आता है।”

साउथ सुपरस्टार होने के बाद भी, नित्या को बहु-कलाकारों वाली फिल्म से कोई अप्पति नहीं थी। उन्होंने कहा-“मैं पहले एक अभिनेत्री हूँ, हीरोइन बाद में। मैंने कभी भी अपने व्यवसाय को आत्म-केंद्रित तरीके से नहीं अपनाया, यह महत्वपूर्ण नहीं है कि मुझे इस परियोजना में सबसे महत्वपूर्ण अभिनेता बनना है। अगर मुझे किरदार पसंद है, अगर मुझे फिल्म पसंद है, तो मैं इसे करुँगी।”

जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्होंने कभी सोचा है स्पेस मिशन पर फिल्म पहले हिंदी में क्यों बनी, ये देखते हुए कि साउथ इंडस्ट्री को ज्यादा बेहतर फिल्में बनाने के लिए जाना जाता है, उन्होंने कहा-“ये विवादित सवाल है। मुझे लगता है कि कोई विचार के साथ पहले आया है। लेकिन उस पर चर्चा करने का कोई फायदा नहीं। यहाँ तक कि जगन भी साउथ से है और उनकी बहन इसरो में काम करती हैं, और मेरी आंटी भी।”

दोनों इंडस्ट्री की तुलना पर, नित्या ने कहा कि बॉलीवुड ज्यादा मैत्रीपूर्ण और अधिक पेशेवर है।

 

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here