शुक्रवार, सितम्बर 20, 2019

मायावती: भाजपा केंद्र की सत्ता से बाहर चली जाएगी

Must Read

उप्र में विकास की रफ्तार बढ़ी, मगर साइकिल वहीं खड़ी : श्रीकांत शर्मा

लखनऊ, 20 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने शुक्रवार को...

टी-20 से बाहर जाना, टेस्ट में बेहतर करने का मौका : कुलदीप

मैसुरू, 20 सितम्बर (आईएएनएस)। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही टी-20 सीरीज के...

उप्र : बालू खनन में संलिप्तता पर पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

बांदा, 20 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के पुलिस कप्तान ने अवैध बालू भरे ट्रकों की निकासी...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

वाराणसी, 16 मई (आईएएनएस)| प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में गुरुवार को बहुजन समाज पार्टी (सपा) की अध्यक्ष मायावती और समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने संयुक्त रूप से एक जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने भविष्यवाणी की कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) केंद्र की सत्ता से बाहर चली जाएगी।

मायावती ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले चुनाव में कमजोर लोगों को अच्छे दिन के सपने दिखाए, मगर एक भी वादा पूरा नहीं किया। देश के लोग बेहद नाराज हैं, इस कारण भाजपा केंद्र की सत्ता से बाहर चली जाएगी। भाजपा की चौकीदारी अमीरों के लिए है।”

उन्होंने कहा कि भाजपा की जातिवादी और सांप्रदायिक व पूंजीवादी सोच के कारण गरीबों दलितों पिछड़ों व मुस्लिमों का विकास नहीं हो सका है। उत्तर प्रदेश के किसान आवारा पशुओं से परेशान हैं। भाजपा सरकार ने उनके लिए कुछ नहीं किया।

मायावती ने कहा, “काशी को विकसित करने में स्वच्छता और बुनकरों की समस्याओं को दूर करने का जो वादा किया गया, वह भी पूरा नहीं हो सका है। पीएम ने यहां सैकड़ों प्राचीन मंदिरों को तुड़वाया है जिससे सैकड़ों परिवारों को दुख झेलना पड़ा। गंगा की सफाई देश का मुद्दा है, मगर लाखों-करोड़ों खर्च के बाद भी वह वादा पूरा नहीं हुआ। मोदी ने अपनी गंगा मैया से वादाखिलाफी की है। ऐसे लोगों को गंगा मैया जरूर सजा देगी।”

वहीं, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, “आप गिन लो, आज के बाद केवल सात दिन हैं और सात दिन बाद देश में एक नया प्रधानमंत्री होगा। इसलिए हम बनारस के अपने सभी लोगों से निवेदन करने आए हैं, अपील करने आए हैं कि जो जाने वाले हैं, उनका साथ न देकर जो आने वाले हैं, उनका साथ दें।”

उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसते हुए कहा, “धार्मिक नगरी, सांस्कृतिक नगरी और धरती का सबसे पुराना शहर, यही तो वह शहर है जिसमें देश के प्रधानमंत्री ने कहा था, हम बनारस को क्योटो बना देंगे। बताओ हमारे बनारस के साथियों, हम वाराणसी में आए हैं या क्योटो में आए हैं। यदि क्योटो में नहीं आए हैं तो झूठ बोलने वाले से पीछा छुड़ाइए, देश को नया प्रधानमंत्री दीजिए, यही निवेदन करने आया हूं।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उप्र में विकास की रफ्तार बढ़ी, मगर साइकिल वहीं खड़ी : श्रीकांत शर्मा

लखनऊ, 20 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता और राज्य के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने शुक्रवार को...

टी-20 से बाहर जाना, टेस्ट में बेहतर करने का मौका : कुलदीप

मैसुरू, 20 सितम्बर (आईएएनएस)। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही टी-20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में जगह...

उप्र : बालू खनन में संलिप्तता पर पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

बांदा, 20 सितंबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के पुलिस कप्तान ने अवैध बालू भरे ट्रकों की निकासी और खनन में संलिप्तता पाए...

तिहाड़ में आत्महत्या की असफल कोशिश करने वाले कैदी की मौत

नई दिल्ली, 20 सितम्बर (आईएएनएस)। एशिया की सबसे सुरक्षित समझी जाने वाली तिहाड़ जेल में बंद उस कैदी की मौत हो गई, जिसने तीन...

जरदारी के खिलाफ पार्क लेन मामले में 5 अक्टूबर को आरोप तय होंगे

इस्लामाबाद, 20 सितंबर (आईएएनएस)। इस्लामाबाद की जवाबदेही अदालत में पार्क लेन मामले में गुरुवार को पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी, उनकी बहन...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -