Mon. Oct 3rd, 2022
    अमित शाह और उद्धव ठाकरे

    बीजेपी से गठबंधन में शिवसेना ने पालघर सीट की मांग की थी। जिससे पालघर के भाजपा कार्यकर्ता नाखुश थे। इन अटकलों को सुनते हुए रविवार और सोमवार को 50 लोगों ने कथित तौर पर पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। जिसमें तुलका प्रमुखों, मंडल ईकाईयों के कार्यकर्ताओं के साथ जिला स्तर के कार्यकर्ता भी शामिल हैं। आगामी चुनाव को लेकर भाजपा व शिवसेना के बीच सीट बंटवारे की बात सुनते ही इस्तीफा देना शुरु कर दिया गया था।

    सूत्रों के मुताबिक भाजपा ने 25-23 के बंटवारे में पालघर सीट शिवसेना के दे दी है। जिससे अभी वहां राज कर कर भाजपा के कार्यकर्ता नाराज हैं।

    पालघर भाजपा ईकाई के प्रमुख पास्कल धनारे ने बताया कि, कार्यकर्ताओं का इस्तीफा अब भी जारी है। पार्टी लोगों में इस सीट को लेकर उठाए गए कदम से बेहद गुस्सा है। उन्होंने यह भी कहा कि, “मेरे पास पार्टी छोड़कर गए कार्यकर्ताओं की सूची है लेकिन मैं उसे सार्वजनिक नहीं कर रहा हूं क्योंकि अध्यक्ष की ओर से अभी तक कोई अंतिम फैसला नहीम आया है।

    ज्ञात हो कि पालघर सीट का नेतृत्व बीजेपी की वरिष्ठ नेता चिंतामन वानगा करते थे। लेकिन उनकी मृत्यु के बाद हुए उपचुनावों में भाजपा-शिवसेना के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली थी। जिसमें बीजेपी ने बाजी मार ली थी।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.