अयोध्या के बाद अब महाराष्ट्र के पंढरपुर मे उद्धव ठाकरे करेंगे राम मंदिर के लिए रैली

Uddhav-Thackeray

राम मंदिर के निर्माण के लिए पिछले महीने अयोध्या में शिवसेना की रैली के बाद, पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे सोमवार को महाराष्ट्र के तीर्थस्थल पंढरपुर में एक विशाल धर्म सभा आयोजित करने की तैयारी कर रहे हैं। हालाँकि अयोध्या रैली के विपरीत पंढरपुर रैली में युवाओं और महिलाओं की भागीदारी अधिक होने की उम्मीद है।

वरिष्ठ शिवसेना नेता ने कहा, ‘हम नहीं चाहते थे कि बड़ी संख्या में शिव सैनिक अयोध्या आएं। लेकिन राज्य भर के सैनिक पंढरपुर आएंगे। रैली में लगभग तीन लाख लोगों के शामिल होने की उम्मीद है।”

शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने कहा “हमारे लिए, राम मंदिर एक चुनावी मुद्दा नहीं है। उद्धवजी की अयोध्या रैली के बाद, महाराष्ट्र में बहुत उत्साह और उत्सुकता है। पंढरपुर को दक्षिण काशी भी कहा जाता है। यही शहर का महत्व है। विठोबा-रुखुमाई, मजदूर वर्ग, किसानों और मजदूरों के देवता हैं। हम देवता से आशीर्वाद लेने जा रहे हैं।”

उद्धव ठाकरे की धर्म सभा को पार्टी की ताकत के रूप में देखा जा रहा है। अयोध्या में राम मंदिर मुद्दे के इर्द-गिर्द राजनीतिक लामबंदी को पार्टी द्वारा सफल माना गया क्योंकि विश्व हिंदू परिषद जैसे अन्य दक्षिणपंथी समूहों ने शिवसेना के कदमों का अनुसरण किया और धर्म सभाओं का आयोजन किया। शिवसेना इसे एक ट्रेंड-सेटिंग कदम के रूप में देखती है जो आरएसएस को बीजेपी नेतृत्व के साथ राम मंदिर के मुद्दे को उठाने के लिए मजबूर करेगा।

पंढरपुर की रैली में, उद्धव ठाकरे ने न केवल हिंदुत्व की पिच पर समर्थन जुटाने की कोशिश करेंगे, बल्कि राम मंदिर के निर्माण में देरी पर भाजपा को एक संदेश भी देंगे।

लातूर के एक शिवसैनिक ने बताया, “हम रैली के बारे में उत्साहित हैं। पिछली बार हमें वापस जाने और अयोध्या की यात्रा नहीं करने के लिए कहा गया था। लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। जिला स्तर पर भीड़ जुटी रही है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here