दा इंडियन वायर » समाचार » ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में फूंका चुनावी बिगुल
राजनीति समाचार

ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में फूंका चुनावी बिगुल

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव की आहटें तेज हो चुकी हैं। सभी पार्टियां अपनी अपनी तरफ से बंगाल फतह करने की आखिरी कोशिशों को अंजाम देती नजर आ रही हैं। ऐसे में ममता बनर्जी ने बीजेपी के वारों पर पलटवार किया है। उन्होंने जनता को नंदीग्राम से चुनाव लड़ने की वजह बताई है और साथ ही जनता से अपील की है कि वे बीजेपी को अप्रैल फूल बना दें। चुनावों के नजदीक आते ही पार्टियां एक-दूसरे पर जमकर आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं। ममता बनर्जी ने आज नंदीग्राम में जनसभा की जिसमें उन्होंने भाजपा के नेताओं को दिल्ली के गुंडे बताया और कहा कि दिल्ली के गुंडे ममता बनर्जी को बाहरी बता रहे हैं। ममता बनर्जी ने खुद को बंगाल की बेटी बताया और कहा कि बंगाल की बेटी बाहरी कैसे हो सकती है।

ममता बनर्जी नंदीग्राम से अपना नामांकन लोकसभा चुनाव के लिए दाखिल करने वाली हैं। नामांकन से पहले उन्होंने अपने चुनाव क्षेत्र में रैली करके अपनी विपक्षी पार्टी बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने नंदीग्राम सीट का चुनाव करने की वजह भी जनता को बताई। ममता बनर्जी ने उनके विपरीत खड़ी सभी पार्टियों को बंटवारा करने की कोशिश करने वाला बताया और जनता से अपील की कि जनता ऐसे लोगों की बात ना सुने। ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से अपने भावनात्मक जुड़ाव को लोगों के सामने रखा। उन्होंने लोगों को नंदीग्राम आंदोलन की याद दिलाई और कहा वे चाहती तो भवानीपुर से टिकट लेकर चुनाव लड़ सकती थीं, लेकिन नंदीग्राम के विधायक के इस्तीफा देने के बाद ममता बनर्जी ने लोगों से पूछा कि क्या वे नंदीग्राम से चुनाव लड़ सकती हैं। तो जनता ने हां कहा। इसीलिए ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का फैसला लिया।

ममता पर लगे हिंदुत्व विरोध के आरोपों पर भी उन्होंने अपना बचाव करते हुए कहा कि मैं खुद हिंदू हूं। कोई और मुझे हिंदुत्व ना सिखाए। ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से अपने प्रचार अभियान की शुरुआत कर दी है। ममता बनर्जी ने अपनी जनता से कहा कि यदि यहां के लोग उन्हें स्वीकृति देते हैं तभी वे नामांकन दाखिल करेंगी अन्यथा नहीं। ममता बनर्जी के बयानों से लग रहा है कि वे नंदीग्राम की जनता को साधने की पूरी तैयारी कर चुकी हैं। उन्होंने विपक्ष द्वारा अपने ऊपर लगाए गए सभी इल्जामों का जवाब भी दिया है, साथ ही उन्होंने बीजेपी के हिंदू कार्ड पर पलटवार करते हुए कहा है कि वह रोज सुबह घर से मां चंडी का पाठ करके निकलती है और उन्होंने नंदीग्राम के लिए माता से कामना की है। साथ ही उन्होंने शिवरात्रि का जिक्र भी किया है।

ममता बनर्जी ने नंदीग्राम से अपने चुनावी रण का बिगुल बजा दिया है। वे जमकर अपने ऊपर लगे आरोपों पर पलटवार करती दिख रही हैं। नंदीग्राम से शुभेंदु अधिकारी ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। शुभेंदु अधिकारी तृणमूल कांग्रेस को छोड़ने वाले सबसे पहले नेताओं में से हैं। ऐसे में नंदीग्राम पश्चिम बंगाल चुनाव की सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण सीट मानी जा रही है और दोनों ही पार्टियों के लिए यह सीट उनकी नाक का सवाल बनी हुई है।




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!