Sat. Jul 13th, 2024
    मध्यप्रदेश

    मध्यप्रदेश में इस साल के अंत में चुनाव होने से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया है। काफी समय बाद किए विस्तार में शिवराज सिंह ने तीन मंत्रियों को शामिल किया है। आज राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बालकृष्ण पाटीदार, नारायण सिंह कुशवाह और जालम सिंह पटेल को राज्यमंत्री पद की शपथ दिलवाई। शपथ ग्रहण के अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत उनके मंत्रिमंडल के वरिष्ठ मंत्रियों सहित शीर्ष अधिकारी उपस्थित थे।

    विधायक पाटीदार निमर क्षेत्र से संबंधित है जो खारगोन के विधायक है। विधायक कुशवाह ग्वालियर-चंबल क्षेत्र से आते हैं और विधानसभा में ग्वालियर दक्षिण का प्रतिनिधित्व करते है। जबकि जालम सिंह पटेल महाकौशल क्षेत्र से है। नरसिंहपुर से विधायक कुशवाह बीजेपी सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल के छोटा भाई है।

    राजनीतिक जानकारों की माने तो इस साल के अंत में प्रदेश में विधानसभा चुनाव होन वाले है। पिछले कुछ समय से मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं किया गया था। इसलिए कहा जा रहा है कि जातीय समीकरणों को साधने के लिए शिवराज ने चुनावों से पहले अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया है।

    कांग्रेस ने किया था मंत्रिमंडल विस्तार का विरोध

    गौरतलब है कि प्रदेश की मुंगावली और कोलारस विधानसभा क्षेत्र में 24 फरवरी को होने वाले उपचुनाव के मद्देनजर कांग्रेस ने आचार संहिता के उल्लंघन की बात करते हुए मंत्रिमंडल के इस विस्तार का विरोध किया था।

    वर्तमान में मध्यप्रदेश सरकार मे शिवराज सिंह समेत कुल 20 कैबिनेट मंत्री है और नौ राज्य मंत्री है। संवैधानिक प्रावधानों के अनुसार, राज्य में अधिकतम 35 मंत्री हो सकते है।

    मंत्रिमंडल विस्तार के बाद अब मध्यप्रदेश में चुनावी तैयारियां भी देखी जा रही है। शिवराज सिंह एक बार फिर से सत्ता में आने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहे है।