शुक्रवार, जनवरी 24, 2020

भोपाल में दुष्कर्म-हत्या पीड़िता को न्याय दिलाने शिवराज सिंह चौहान ने दिया धरना, कांग्रेस ने कसा तंज

Must Read

दिल्ली : सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, सीमित मुफ्त सुविधाएं अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी, गरीबों के पास पैसों की बचत होती है

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि अगर कोई अतिरिक्त कर नहीं लगता है और अगर...

झारखंड : पत्थलगड़ी हत्याकांड के बाद सीएम हेमंत सोरेन ने स्थगित किया मंत्रिमंडल विस्तार

पश्चिम सिंहभूम जिले में सात लोगों की हत्या के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने मंत्रिमंडल विस्तार...

अडानी गैस के शेयरों में 14 फीसदी की भारी गिरावट

अडानी गैस के शेयरों में शुक्रवार को बीएसई में 14 फीसदी की भारी गिरावट आई। ऐसा पेट्रोलियम एंड नेचुरल...

आठ माह पूर्व यहां 12 साल की एक बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने के आरोपियों पर जल्द कार्रवाई किए जाने की मांग को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सोमवार को यहां धरने पर बैठ गए और उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को ज्ञापन सौंपा।

दूसरी ओर कांग्रेस ने चौहान के धरने को राजनीतिक नौटंकी करार दिया है। राजधानी के मनुआभान टेकरी में आठ माह पूर्व 12 वर्षीय बालिका की दुष्कर्म के बाद पत्थरों से कुचलकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड के आरोपियों पर अबतक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। इसी को लेकर सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री चौहान बालिका की मां के साथ मासूम को न्याय दिलाने के लिए रोशनपुरा क्षेत्र में धरने पर बैठे।

हैवानों की दरिंदगी का शिकार हुई बालिका की मां ने पुलिस पर गंभीरता से कार्रवाई न किए जाने का आरोप लगाया, और कहा कि उसकी बेटी के साथ दिन के उजाले में दुष्कर्म हुआ और उसकी हत्या कर दी गई। आरोपियों को आठ माह गुजर जाने के बाद भी सजा नहीं मिली है।

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कहा, “एक मां आठ माह से बेटी को न्याय दिलाने के लिए भटक रही है। सवाल उठता है कि आखिर कहां जाए यह मां, ऐसा क्रूर काम करने वाले नर पिशाच हैं। वारदात को हुए आठ माह हो चुके हैं, मगर अब तक डीएनए रिपोर्ट नहीं आई है। आखिर कब तक इस बहन को न्याय मिलेगा। हमें अब एक ही बात करनी है कि बेटी के दोषियों को फांसी के फंदे पर लटका दिया जाए।”

धरने के बाद चौहान ने बालिका के परिजनों और भाजपा नेताओं के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा।

दूसरी ओर, पूर्व मुख्यमंत्री चौहान के धरने पर बैठने को लेकर कांग्रेस ने तंज कसा है।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी की मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने कहा, “प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दुष्कर्म जैसे संवेदनशील विषय पर भी राजनीतिक नौटंकी कर रहे हैं। यदि शिवराज सिंह ऐसे मुद्दों पर तनिक भी संवेदनशील होते तो उनके मुख्यमंत्रित्व काल में 47,000 से अधिक महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनाएं नहीं हुई होतीं, बच्चियों और महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों में, प्रदेश लगातार देश में नंबर वन न बना रहता।”

ओझा ने आगे कहा, “यह आश्चर्यजनक है कि पिछले लगभग डेढ़ दशक के कार्यकाल में शिवराज सिंह ने बच्चियों और महिलाओं के साथ घटित हो रहे अपराधों के मामले में ऐसी तत्परता और संवेदनशीलता कभी नहीं दिखाई, जैसी अब दिखा रहे हैं। वरना प्रदेश में न तो इतनी बड़ी संख्या में महिला अपराध घटित हुए होते और न ही प्रदेश के माथे पर महिला अपराधों के मामले में नंबर वन बनने का कलंक लगता।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली : सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, सीमित मुफ्त सुविधाएं अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी, गरीबों के पास पैसों की बचत होती है

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि अगर कोई अतिरिक्त कर नहीं लगता है और अगर...

झारखंड : पत्थलगड़ी हत्याकांड के बाद सीएम हेमंत सोरेन ने स्थगित किया मंत्रिमंडल विस्तार

पश्चिम सिंहभूम जिले में सात लोगों की हत्या के बाद झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अपने मंत्रिमंडल विस्तार कार्यक्रम को फिलहाल टाल दिया...

अडानी गैस के शेयरों में 14 फीसदी की भारी गिरावट

अडानी गैस के शेयरों में शुक्रवार को बीएसई में 14 फीसदी की भारी गिरावट आई। ऐसा पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस रेग्युलेटरी बोर्ड ऑफ इंडिया...

भाजपा के पूर्व वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने कहा, पार्टी को भुगतना पड़ेगा सीएए का खामियाजा

भाजपा के पूर्व वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) को लेकर भगवा पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा है कि भाजपा...

ऑकलैंड टी-20 : 3 मेजबान बल्लेबाजों के अर्धशतक, भारत के सामने विशाल लक्ष्य

न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम ने अपने तीन बल्लेबाजों के अर्धशतकों के दम पर यहां के ईडन पार्क मैदान पर शुक्रवार को जारी पहले टी-20 मुकाबले...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -