आज से भारत कोरोना वैक्सीन का निर्यात शुरू करने वाला है। पहले दौर में 6 पड़ोसी देशों को कोरोना की वैक्सीन सप्लाई की जाएगी। विदेश मंत्रालय की ओर से बयान आया है कि भारत के प्रमुख पड़ोसी देशों से भारत में बनी वैक्सीन के निर्यात के अनुरोध मिले हैं। इसीलिए भारत 20 जनवरी से कोविड वैक्सीन का निर्यात शुरू करने वाला है। इसमें सबसे पहले चरण में जिन 6 देशों को वैक्सीन मिलने वाली है उनमें भूटान,मालदीव, नेपाल, म्यांमार, बांग्लादेश और सेशेल्स शामिल हैं।

इन देशों को आने वाले हफ्तों में चरणबद्ध तरीके से वैक्सीन सप्लाई की जाएगी। वहीं अफगानिस्तान, मॉरिशस और श्रीलंका में भी वैक्सीन भेजे जाने का इंतजार किया जा रहा है। भारत में भी अभी तक लगभग हर राज्य में टीके पहुंच चुके हैं और कई राज्यों में टीके लगने शुरू भी हो चुके हैं। भारत में फ्रंटलाइन वर्करों, कोरोना योद्धाओं, डॉक्टरों व हेल्थ केयर वर्करों को वैक्सीनेशन देने की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है और बहुत कम ही ऐसे लोग हैं जिन पर इस वैक्सीन का कोई नकारात्मक प्रभाव पड़ा हो।

भारत ये वैक्सीन सहायता अनुदान के तहत अपने पड़ोसी देशों को देने वाला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इसके लिए ट्वीट किया है कि भारत वैश्विक समुदाय के स्वास्थ्य सेवा जरूरतों की पूर्ति के लिए सहयोगी बनकर सम्मानित महसूस कर रहा है और बुधवार से टीकों का निर्यात करना शुरू कर देगा। भारत द्वारा निर्मित टीके को लेने के लिए बहुत से देशों ने संपर्क किया है और चरणबद्ध तरीके से हर देश को टीका दिया जाने वाला है। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि पड़ोसी देशों से प्राप्त अनुरोधों की प्रतिक्रिया और कोरोना महामारी के खिलाफ मानवता की लड़ाई में सभी की मदद और भारत में टीके के उत्पादन और आपूर्ति को ध्यान में रखकर ही पड़ोसी देशों को भी वैक्सीन की सप्लाई शुरू की जाएगी।


subscriber

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *