Wed. Oct 5th, 2022
    russian envoy

    रूस (Russia) के राजदूत निकोलस कुदेशव ने बुधवार को कहा कि “आगामी भविष्य में भारत और रूस वैश्विक परिदृश्य को निर्धारित करेंगे। भारत (India) और रूस की दोस्ती नई ऊँचाइयाँ पर पंहुच गयी है। आज रुसी राष्ट्रीय दिवस है लेकिन यह इंडो-रूस दोस्ती का दिन भी है। यह मित्रता नए आयामों के इर्द गिर्द घूम रही है और नए आयामों को चूम रही है।”

    उन्होंने कहा कि “दो दिग्गज राष्ट्र भारत और रूस वैश्विक परिदृश्य को निर्धारित करेंगे। अगर सभी सही रहा तो यह स्फूर्त सम्बन्ध जारी रहेंगे। यह पुरानी य्यारी का दौर जारी है। यहां आनंद महसूस होता है और बेहद संतुष्टि है क्योंकि दोनों देशों के मैत्रीपूर्ण सम्बन्ध जारी है।”

    रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच बातचीत का आयोजन होगा। भारतीय विदेश सचिव विजय गोखले ने रुसी दिवस के समारोह के मौके पर कहा कि “नई दिल्ली का मॉस्को के मूल्यवान साझेदार है। भारत कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की बैठक के तरफ देख रहा है। मॉस्को भारत का एक मूल्यवान साझेदार है और हमारा फोकस व्यापार संबंधों में विस्तार पर है।”

    13-14 जून को किर्ग़िज़स्तान में शंघाई सहयोग संघठन की 19 वीं बैठक का आयोजन होगा। एससीओ के सम्मेलन के इतर मोदी और पुतिन की मुलाकात भी होगी। इसमें चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी शामिल होंगे। पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ नरेंद्र मोदी की किसी औपचारिक बैठक का ऐलान नहीं किया गया है।

    भारत ने हाल ही ऐलान किया कि प्रधानमंत्री मोदी किर्ग़िज़स्तान के लिए पाकिस्तानी वायुमार्ग का इस्तेमाल नहीं करेंगे। इसके बजाये वह ईरान और ओमान के लम्बे रास्ते से गुजरेंगे।

    साल 2017 में भारत और पाकिस्तान एससीओ के पूर्ण सदस्य बन गए थे। इसकी स्थापना साल 2001 में हुई थी और इसके सदस्य देशों चीन, किर्ग़िज़स्तान, कज़ाकिस्तान, रूस, ताजीकिस्तान और उज़्बेकिस्तान ने इसकी स्थापना की थी।

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.