सोमवार, जनवरी 20, 2020

भारत, फ्रांस ने मेरीटाइम जागरूकता, कौशल विकास के समझौते पर किये हस्ताक्षर

Must Read

छत्तीसगढ़ : बीजापुर के जंगलों में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में एक महिला नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ में बीजापुर के जंगली इलाके में पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने एक मुठभेड़ में एक...

केरल : मंत्रीमंडल ने राज्य में एनपीआर और एनआरसी को लागू नहीं करने को मंजूरी दी

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ अपना रुख सख्त करते हुए केरल मंत्रिमंडल ने सोमवार को विशेष बैठक करने...

लीबिया : पाइपलाइन बंद होनें से प्रभावित हुई कच्चे तेल की आपूर्ति, 10 दिनों की ऊंचाई पर पहुंची कीमत

तनावग्रस्त लीबिया से कच्चे तेल की आपूर्ति प्रभावित होने से सोमवार को तेल के दाम में एक फीसदी से...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

भारत और फ्रांस ने गुरूवार को भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संघठन और पेरिस स्थित नेशनल सेंटर ऑफ़ स्पेस स्टडीज की तरफ से समझौते पर हस्ताक्षर किये थे ताकि जॉइंट मेरीटाइम डोमेन अवैर्नेस मिशन का गठन का किया जा सके और समुद्र से जुड़े खतरों को पहचानकर और खत्म किया जा सके।

गुरूवार को सुबह पीएम मोदी फ्रांस पहुचे थे और उन्होंने फ्रांस के राष्ट्रपति इम्मानुएल मैक्रॉन के साथ द्विपक्षीय बैठक की थी और संयुक्त हितो के कई द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की गयी थी। दोनों ने बैठक के दौरान इंडो पैसिफिक में नौचालन की आज़ादी के मतभेद को समाप्त करने पर प्रतिक्रिया व्यक्त की थी।

विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा कि “इंडो पैसिफिक में नौचालन की आज़ादी को बरक़रार रखने की साझा प्रतिबद्धता पर आधारित है। फ्रांस और भारत के बीच समुंद्री सुरक्षा सहयोग हमारी रणनीतिक साझेदारी में महत्वपूर्ण है।” इन समझौते पर कौशल विकास और उद्यम मंत्रालय और भारत सरकार, राष्ट्रीय शिस्खा और युवा मंत्रालय, कौशल विकास सहयोग में फ्रांस की सरकार के बीच हुआ था।

साथ ही नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोलर एनर्जी, न्यू एंड रिन्यूएबल मिनिस्ट्री, भारत सरकार और फ्रांस की उर्जा और परमाणु उर्जा समिति ने भी समझौते पर दस्तखत किये हैं। प्रधानमन्त्री शुक्रवार को फ्रांस के प्रधानमन्त्री एदौअर्द फिल्लिपे के साथ मुलाकात करेंगे।

25-26 अगस्त को प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी फ्रांस के आमंत्रण पर जी-7 के सम्मेलन में शामिल होंगे और वह जलवायु परिवर्तन, पर्यावरण, समुन्द्र और डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन के स्तर में शामिल होंगे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

छत्तीसगढ़ : बीजापुर के जंगलों में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में एक महिला नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ में बीजापुर के जंगली इलाके में पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने एक मुठभेड़ में एक...

केरल : मंत्रीमंडल ने राज्य में एनपीआर और एनआरसी को लागू नहीं करने को मंजूरी दी

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ अपना रुख सख्त करते हुए केरल मंत्रिमंडल ने सोमवार को विशेष बैठक करने के बाद जनगणना आयुक्त को...

लीबिया : पाइपलाइन बंद होनें से प्रभावित हुई कच्चे तेल की आपूर्ति, 10 दिनों की ऊंचाई पर पहुंची कीमत

तनावग्रस्त लीबिया से कच्चे तेल की आपूर्ति प्रभावित होने से सोमवार को तेल के दाम में एक फीसदी से ज्यादा की तेजी आई। अंतर्राष्ट्रीय...

मौसम की जानकारी : हिमाचल प्रदेश में कड़ाके की ठंड जारी, अधिक बर्फबारी की संभावना

हिमाचल प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में सोमवार को शीतलहर और कड़ाके की ठंड जारी है। मौसम विभाग ने अपने अनुमान में राज्यभर में और...

हवाई : होनोलुलु में गोलीबारी, दो पुलिस अधिकारियों की मौत

हवाई की राजधानी होनोलुलु में गोलीबारी की घटना में दो पुलिस अधिकारी मारे गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, हवाई न्यूज नाउ के हवाले...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -