Thu. Dec 8th, 2022
    फ्रांस और भारत

    भारत और फ्रांस ने नियमित द्विपक्षीय संयुक्त अभ्यास की जटिलता और स्कोप का विस्तार करने पर सहमती जाहिर की है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके समकक्षी फ्लोरेंस परली के बीच मंगलवार को दूसरी भारत-फ्रांस मन्त्रिय स्तर वार्षिक रक्षा वार्ता का आयोजन किया गया था।

    दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधो के सहयोग पर चर्चा की थी जो भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी का एक महत्वपूर्ण स्तम्भ है। साथ ही समकालीन क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय विकास के संयुक्त हितो पर विचारो को साझा करेंगे।

    उन्होंने बयान में कहा कि “दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधो के सहयोग पर चर्चा की थी जो भारत-फ्रांस रणनीतिक साझेदारी का एक महत्वपूर्ण स्तम्भ है। साथ ही समकालीन क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय विकास के संयुक्त हितो पर विचारो को साझा करेंगे।”

    बयान के मुताबिक, दोनों पक्षों ने रक्षा सम्बंधित मामले को गहन करने के तरीके पर चर्चा की थी। दोनों पक्षों ने भारत और फ्रांस ने नियमित द्विपक्षीय संयुक्त अभ्यास की जटिलता और स्कोप का विस्तार करने पर सहमती जाहिर की है, इसमें वरुण, शक्ति और गरुण शामिल है।”

    आतंकवाद विरोध पर द्विपक्षीय सहयोग को गहरा करने के मज़बूत करने के इरादे को मंत्रियो ने दोहराया है। रक्षा मंत्री ने रफाल विमानों को सुपुर्द करने के अधिकारिक समारोह में शिरकत की थी।

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *