Thu. Dec 1st, 2022
    भारत और फ्रांस

    फ्रांस के द्वारा जारी नयी रिपोर्ट के मुताबिक, भारत और फ्रांस के बीच व्यापार का विस्तार जारी रहेगा। फ्रांस की कंपनियों कंपनियों की 550 से अधिक भारतीय सहायक कंपनियां हैं और वह करीब 360000 लोगो को रोजगार देती है। फ्रांस के दूतावास ने कहा कि “फ्रांस में साल 2018 में कुल 1323 निवेश के निर्णय लिए गए थे यही प्रति सप्ताह औसतन 25 निर्णय लिए जाते थे।”

    यह जानकारी 2018 की वार्षिक रिपोर्ट, फ्रांस में विदेशी निवेश में दी गई है जिसे इस माह की शुरुआत में अर्थव्यवस्था और वित्त के फ्रांसीसी मंत्रालय ने जारी की थी। इकॉनमी एंड फाइनेंस मिनिस्टर ब्रूनो ले मायरे, बिज़नेस फ्रांस के सीईओ क्रिस्टोफे लेकोरटिएर और अंतर्राष्ट्रीय निवेश के ब्रांड एम्बेसडर पासकल कागनी ने यह रिपोर्ट जारी की है।

    भारत में फ्रांस के राजदूत अलेक्जेंडर ज़ीग्लर ने कहा कि “साल 2018 में 17 निवेश निर्णय लिए गए हैं और 150 से ज्यादा भारतीय कंपनियां फ्रांस में हैं और 7000 से अधिक नागरिकों कोरोज़गार मुहैया कर रही है। भारत का निवेश फ्रांस की बिज़नेस हब की तस्वीर में सुधार कर रहा है।”

    बयान के मुताबिक, साल 2018 में भारतीय प्रोजेक्ट ने निर्णय लेने के तौर पर (प्रोजेक्ट के लिए 59 प्रतिशत, रोजगार 53 प्रतिशत) और उत्पादन के क्षेत्र में (18 फीसदी प्रोजेक्ट, 34 प्रतिशत नौकरी) है। अधिकतर निवेश सॉफ्टवेयर और आईटी सेक्टर (24 प्रतिशत प्रोजेक्ट, 30 प्रतिशत नौकरी) और मशीनरी व मैकेनिकल उपकरण क्षेत्र में (12 प्रतिशत प्रोजेक्ट और 21 फीसदी रोजगार) है।

    भारत में वरिष्ठ व्यापार और निवेश कमिश्नर सोफी क्लावेलिएर ने कहा कि “फ्रांस के क्षेत्रों और शहरो की विविधता जारी आरहेगी और भारतीय निवेशकों को लुभाएगी।”

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *