शनिवार, दिसम्बर 14, 2019

भारत के लिए एयरस्पेस को पूरी तरह बंद करने पर विचार कर रहा पाकिस्तान: फवाद चौधरी

Must Read

मानव विकास के मामले में पाकिस्तान दक्षिण एशिया में भी फिसड्डी

मानव विकास सूचकांक (एचडीआई) की ताजा रैंकिंग में पाकिस्तान के बीते साल के मुकाबले एक स्थान और पीछे खिसकर...

वनडे सीरीज में टी-20 विश्व कप की तैयारियों पर होगा ध्यान : भरत अरुण

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा है कि बेशक भारत रविवार से विंडीज के खिलाफ तीन...

सलमान खान की पटकथा पर कभी भरोसा नहीं करते पिता सलीम खान

सलमान खान ने कहा कि उनके पिता और प्रसिद्ध पटकथा लेखक सलीम खान अपने सुपरस्टार बेटे की पटकथा पर...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि “पाकिस्तानी प्रधानमन्त्री इमरान खान भारत के लिए हवाई मार्ग को पूरी तरह बंद करने पर विचार कर रहे हैं।” जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जे को निष्प्रभावी करने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है।

उन्होंने ट्वीट किया कि “पीएम भारत के लिए एयरस्पेस को पूरी तरह से बंद करने पर विचार कर रहे हैं, अफगानिस्तान में भारतीय व्यापार के लिए पाकिस्तान की सरजमीं के इस्तेमाल पर भी पूर्ण प्रतिबंध लगाने का सुझाव कैबिनेट की बैठक में दिया गया है। इन फैसलों के लिए कानूनी औपचारिकताओं पर विचार किया जा रहा है। मोदी ने शुरू किया, हम खत्म करेंगे।”

मंगलवार को इस्लामाबाद में हुई कैबिनेट की बैठक में कश्मीर पर चर्चा  की गयी थी। बैठक की अध्यक्षता प्रधान मंत्री इमरान खान ने की थी और जिन्होंने जम्मू-कश्मीर की स्थिति पर चर्चा की थी।

संघीय उड्डयन मंत्री गुलाम सरवर खान ने कहा कि “कैबिनेट की बैठक में पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र को बंद करने पर विचार किया गया था हालाँकि अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र को बंद पर अगले 48 घंटों के भीतर निर्णय की उम्मीद है। सभी नियमों पर विचार करने के बाद ही कोई सूरत ए हाल सामने आएगी।”

जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छीने के कारण भारत और पाक के बीच तनाव काफी बढ़ गया है और इस्लामाबाद इस मामले का अंतर्राष्ट्रीयकरण करने की कोशिश कर रहा है।

अंतरराष्ट्रीय समुदाय के बयान से पाकिस्तान हक्का बक्का रह गया कि जम्मू कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है। भारत के जम्मू कश्मीर पर निर्णय लेने के दो दिन बाद ही खान ने सऊदी प्रिंस को कॉल किया था।

कुरैशी ने कहा कि प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भारतीय सरकार कश्मीर पर वैध दर्जे को हटाने के लिए आधे अधूरे सच को बता रही है। वह कश्मीर में मानवीय अधिकारों के उल्लंघन से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कश्मीरियों की आवाज़ को उठाने और उन पर हुए अत्याचारों को खत्म करने की मांग की है।

 

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

मानव विकास के मामले में पाकिस्तान दक्षिण एशिया में भी फिसड्डी

मानव विकास सूचकांक (एचडीआई) की ताजा रैंकिंग में पाकिस्तान के बीते साल के मुकाबले एक स्थान और पीछे खिसकर...

वनडे सीरीज में टी-20 विश्व कप की तैयारियों पर होगा ध्यान : भरत अरुण

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा है कि बेशक भारत रविवार से विंडीज के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज की...

सलमान खान की पटकथा पर कभी भरोसा नहीं करते पिता सलीम खान

सलमान खान ने कहा कि उनके पिता और प्रसिद्ध पटकथा लेखक सलीम खान अपने सुपरस्टार बेटे की पटकथा पर कभी भरोसा नहीं करते। 'दबंग...

हम नए नागरिकता कानून के खिलाफ हैं : दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) के खिलाफ है, जो अब कानून बन गया...

महंगाई जनित सुस्ती पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहती : वित्त मंत्री नर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को महंगाई जनित सुस्ती (स्टैगफ्लेशन) पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मैंने सुना है...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -