भारत से हारने के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों का ट्वीटर पर जमकर उड़ा मजाक

भारत-पाकिस्तान

नई दिल्ली, 17 जून (आईएएनएस)| आईसीसी विश्व कप-2019 में भारत ने रविवार को पाकिस्तान को मात दी। इस महामुकाबले के बाद से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पाकिस्तानी खिलाड़ियों का मजाक बनना शुरू हो गया।

इनमें से ट्वीटर पर एक पाकिस्तानी के लोगों ने अलग-अलग तरह के जोक, जीआईएफस, वन-लाइनर्स, मेम्स बना सरफराज अहमद की कप्तानी वाली पाकिस्तानी टीम को खूब आड़े हाथों लिया।

मैच में जैसे ही बारिश आई पाकिस्तान के लोगों ने अपनी टीम की खूब धज्जियां उड़ाईं। चाहें सरफराज की उवासी हो या शोएब मलिका को जीरो पर आउट होना, पाकिस्तानी प्रशंसकों ने खूब मजे लिए।

एक प्रशंसक ने ट्वीट किया, “आप मुझे गद्दार मत कहिएगा, लेकिन भारतीय खिलाड़ियों को देखें, वो पूरी तरह से एथलीट लग रहे हैं। हमारे खिलाड़ियों को देखकर ऐसा लग रहा है कि वो दो प्लेट बारिस निहारी वो भी फीके की लस्सी और बेनजीर कुल्फी खाकर आए हैं, वो भी एक बार में।”

पाकिस्तान के एक और समर्थक ने ट्वीट किया, “डीयर इंडिया, थोड़ा हाथ हौले रखें.. हमारा सरफराज रो ना दे अभी।”

पाकिस्तानी कप्तान ने इस मैच में 30 गेंदों पर 12 रन बनाए। इस पर एक यूजर ने पोस्ट किया, “जब मैं मरूं तो मैं चाहता हूं कि सरफराज मुझे कब्र में दफनाए ताकि वह एक बार और मुझे नीचा दिखा सके।”

एक यूजर ने भारतीय प्रशंसक को जबाव देते हुए लिखा, “अरे हमारी टीम है तो हम देख रहे हैं, आपको कितना और टाइम पास करना है इन निकम्मों को हारता देख के।”

एलिना ने लिखा, “ना बंटवारा होता और न हम जलील हो रहे होते।”

एक और ने लिखा, “डॉलर का रेट और इंडिया के रन कंट्रोल करना हमारे बस में नहीं है।”

सभी जानते हैं कि पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति इस समय अच्छी नहीं चल रही है। इसे ध्यान में रखते हुए एक यूजर ने लिखा, “इंडिया तो ऐसे धो रही है जैसे आईएमएफ से नहीं इनसे कर्जा लेते हैं हम।”

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व कप्तान भी अपनी टीम के प्रदर्शन से बेहद निराश दिखे। 1992 में पाकिस्तान को इकलौता विश्व कप दिलाने वाले कप्तान ने लगातार काफी ट्वीट किए और एक में लिखा, “राइलु कट्टास”

उन्होंने लिखा, “जीत के लिए सरफराज को विशेषज्ञ बल्लेबाज और गेंदबाज के साथ जाना चाहिए था क्योंकि राइलु कट्टास दबाव में कभी-कभार ही प्रदर्शन करते हैं-खासकर इस तरह के माहौल में जैसा आज था। सरफराज को टॉस जीतकर बल्लेबाजी करनी थी।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here