भारत न्यूजीलैंड: तीसरे टी-20 मैच के लिए संभावित प्लेइंग-11, कुछ बदलाव निश्चित हैं

वेलिंग्टन में पहला टी-20 मैच हारने के बाद, रोहित शर्मा और उनकी टीम ने ऑकलैंड में खेले गए दूसरे टी-20 में बेहतरीन प्रदर्शन किया, जहां टीम सीरीज 1-1 से बराबर करने में सफल रही। सीरीज का निर्णायक मैच रविवार को हैमिल्टन में खेला जाएगा, जहां मेन इन ब्लू की टीम सीरीज में अपना कब्जा करने के इरादे से उतरेगी और सीरीज को एक सकारत्मक नोट पर खत्म करना चाहेगी।

यहां देखे तीसरे और फाइनल टी-20 मैच के लिए संभावित प्लेइंग-11-

रोहित शर्मा

भारत के स्टैंड-इन कप्तान रोहित शर्मा एक बार फिर शानदार फार्म में नजर आए और दूसरे टी-20 मैच में उन्होने शानदार अर्धशतक लगाया और टीम के लिए जीत में अहम योगदान दिया। इससे पहले टी-20 मैच में नाकाम रहने के बाद, रोहित खेल के सबसे छोटे प्रारूप में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए है। बाएं हाथ के रोहित शर्मा हैमिल्टन में भी कुछ इस प्रकार के प्रदर्शन दिखाएंगे।

शिखर धवन

शिखर धवन हर मैच में अपने बल्ले से अच्छी शुरूआत कर रहे है, लेकिन वह अपनी पारियो को बड़ी पारी में परिवर्तित करने में असफल रहे है। ऐसा ही एक केस ऑकलैंड में भी देखने को मिला, जहां उन्होने रोहित शर्मा के साथ 50 रन की साझेदारी की लेकिन 30 रन बनाकर आउट हो गए। धवन हैमिल्टन में अपने बेल्ट के नीचे एक स्कोर बनाना चाहेंगे, जिससे पहले की भारत न्यूजीलैंड का दौरा समाप्त करे।

शुभमन गिल

ऑलराउंडर विजय शंकर की जगह युवा खिलाड़ी शुभमन गिल को सीरीज के आखिरी मैच में पदार्पण करने की उम्मीद है। शुबमन ने एकदिवसीय श्रृंखला में दो मैच खेले है लेकिन दोनों में से एक अंक में आउट होने के कारण वह सबसे ज्यादा रन बनाने में असफल रहे। जैसा कि शंकर के साथ, भारत के पास गेंदबाजी विभाग में अच्छी टीम है, दर्शक लाइन-अप में विशेषज्ञ बल्लेबाज की तलाश करेंगे और यही वह जगह है जहाँ गिल का मिश्रण होता है।

ऋषभ पंत

मिडल-ऑर्डर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने ऑकलैंड में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में बल्ले से अहम भूमिका निभाई थी और अपनी टीम को ट्रेडमार्क अंदाज में मैच जीतवाया था। जहां पंत की प्रतिभा में कोई शक नही है, उन्हें टीम में निरंतरता की जरूरत है क्योंकि वह अभी कुछ समय के लिए लाइन-अप में हैं।

एमएस धोनी

विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी एक बार फिर ऑकलैंड में चेज करते हुए अपने कुल अंदाज का चित्रण करते हुए नजर आए। कुछ जल्द विकेट गिरने के बाद, धोनी ने पंत के साथ एक नाबाद साझेदारी की और टीम को जीत दर्ज करवायी। इसके अलावा, स्टंप के पीछे से गेंदबाजों को उनके सुझाव टीम के लिए एक अमूल्य संपत्ति हैं।

दिनेश कार्तिक

मिडल-ऑर्डर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने टीम में एक शांत उपस्थिति के साथ जगह बनाई है और उन्होने पिछले कुछ सालो में टीम के लिए एक अच्छे मैच फिनशिर की भी भूमिका निभाई है। यही नही कार्तिक पहले टी-20 में बल्लेबाजी में नाकाम रहे थे और दूसरे टी-20 में उन्हे बल्लेबाजी करने का मौका नही मिला। बाएं हाथ के बल्लेबाज हैमिल्टन में अपने बल्ले से रन निकाल सकते है अगर टीम को रनो की जरूरत हो।

हार्दिक पांड्या

भारतीय टीम की प्लेइंग-11 में वापसी के बाद, ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने बल्ले और गेंद दोनो से ही कमाल किया है। पांड्या को पिछले मैच में बल्लेबाजी करने का मौका नही मिला था लेकिन गेंदबाजी में उन्हे एक विकेट मिला था। पांड्या को खेल के छोटे प्रारूप में एक बेस्ट आलराउंडर के रूप में याद किया जाता है और हर कारण के लिए उन्हे टीम में सबसे पहले याद किया जाता है, क्योंकि जब वह टीम में रहते है तो टीम के पास बहुत सटीक संतुलन होता है।

क्रुणाल पांड्या

हरफनमौला क्रुणाल पांड्या का आखिरी खेल शानदार रहा था, जहां उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। पांड्या के तीन विकेट ने भारत के लिए जोरदार जीत का मार्ग प्रशस्त किया और बाएं हाथ के स्पिनर हैमिल्टन में भी ऐसा ही देखने को मिलेगा।

भुवनेश्वर कुमार

पहले मैच में 11.7 प्रति ओवर की दर से रन देने के बाद, तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने दूसरे में संशोधन किया और सर्वश्रेष्ठ भारतीय गेंदबाजों में से एक थे। भुवी ने एक बेहतरीन पहला स्पैल डाला जहां उन्होंने भारत को पारी की शुरुआत करने के लिए शुरुआती सफलता दिलाई।

कुलदीप यादव

चाइनामैन कुलदीप यादव के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल के स्थान पर वापसी करने की उम्मीद है जिन्हें पहले दो मैचों में प्लेइंग-11 में रखा गया था। आखिरी गेम में, चहल ने 4 ओवर में 37 रन खाए और कोई विकेट नही लिया। भारत कुलदीप को मध्य ओवरों में रनों के प्रवाह को रोकने के लिए वापस लाएगा।

खलील अहमद

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज खलील अहमद इकॉनमी रेट के मामले में ऑकलैंड में भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज थे। यही नहीं, उन्होंने दो महत्वपूर्ण विकेट भी लिए और डेथ ओवरों में भी अच्छी गेंदबाजी की। खलील अगले गेम में हैमिल्टन में इस अच्छे प्रदर्शन के निर्माण पर ध्यान देंगे।

अंकुर पटवाल: अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है