Wed. Nov 30th, 2022
    एमएस धोनी

    भारत वेलिंगटन के वेस्टपैक स्टेडियम में बुधवार से शुरू होने वाली तीन मैचों की टी 20 सीरीज़ में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अपनी लंबे समय से न्यूजीलैंड के ऊपर टी-20 सीरीज दर्ज करने की उम्मीद कर रहा है।

    खेल के सबसे छोटे प्रारूप में एशियाई टीम को अपने सबसे कठिन प्रतिद्वंद्वी न्यूजीलैंड के खिलाफ कई और रिकॉर्ड भी दर्ज करने है। भारतीय टीम अबतक न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 में वो मुकाम हासिल नही कर पायी है जो टीम ने दूसरी टीमो के खिलाफ हासिल कर रखा है। टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले खेले 9 मैचो में केवल 2 मैच जीते है, टीम ने एकदिवसीय सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ एकदिवसीय मैच में कई रन मारे है तो टीम के पूरे आत्मविश्वास में है और टी-20 सीरीज में भी जीत दर्ज करना चाहेगी।

    पहले टी-20 मैच में पूरा ध्यान भारतीय टीम के अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी पर रहेगा, जो 2018 जुलाई के बाद अपना पहला टी-20 मैच खेलेंगे। धोनी ने इससे पहले खेले के सबसे छोटे प्रारूप का आखिरी मैच इंग्लैंड के खिलाफ पिछले साल खेला था। जिसके बाद उन्हे वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 टीम में जगह नही दी गई थी।

    धोनी के पास एक बहुत अच्छा मौका है जहां वह भारत-न्यूजीलैंड के बीच टी-20 सीरीज में न्यूजीलैंड के ब्रैंडन मैकुलम को पछाड़कर सबसे अधिक रन मारने वाले खिलाड़ी बन सकते है। मैकुलम इस चार्ट में शीर्ष पर है और उनके नाम 4 मैचो में 261 रन है, भारत के कप्तान विराट कोहली ने पांच मैचो में 197 रन बनाए है और वह दूसरे स्थान पर है। जहां विराट कोहली इस सीरीज में आराम कर रहे है, धोनी ने 8 मैचो में अबतक 162 रन बनाए है, जिनके पास अब न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान मैकुलम को पछाड़ने का मौका है।

    मैकुलम के पास भारत और न्यूजीलैंड के बीच एक द्विपक्षीय टी-20 सीरीज में सबसे अधिक रन मारने का रिकॉर्ड भी है। जहां उन्होने 2008-09 के दौरे मे 125 रन मारे थे। जहां न्यूजीलैंड की टीम ने सीरीज में 2-0 से भारत के ऊपर क्लीन स्विप किया था।

    धोनी को इससे पहले साल 2018 में अपनी अंतरराष्ट्रीय स्तर में बल्लेबाजी करने के लिए कई आलोचनाए सुनने को मिली थी। जिसकी वजह से उन्हे वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 सीरीज से टीम में बाहर रखा गया था, जिसके बाद यह कहा जा रहा था कि धोनी का टी-20 प्रारूप का सफर अब यही खत्म हो गया है। धोनी खेल के सबसे छोटे प्रारूप में अपने बेहतरीन वनडे फॉर्म को लेकर उत्सुक होंगे क्योंकि पूर्व भारतीय कप्तान विश्व कप से पहले उच्चतम स्तर पर मैच अभ्यास का सर्वश्रेष्ठ उपयोग करना चाहते हैं। ऑस्ट्रेलिया में लगातार तीन अर्धशतक बनाने के बाद मैन ऑफ़ द सीरीज़ का अवार्ड जीतने वाले धोनी आगामी सीरीज़ में भी लगातार बल्लेबाजी कर सकते हैं।

    इस बीच, रोहित शर्मा भी कप्तान विराट कोहली के एक रिकॉर्ड को पछाड़ सकते है। अगर भारतीय टीम इस सीरीज को जीत लेती है तो रोहित शर्मा विराट कोहली को पछाड़कर टी-20 प्रारूप में एक कप्तान के रूप में विराट कोहली से अधिक जीत दर्ज करने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे। इस लिस्ट में सबसे एक भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मेहंद्र सिंह धोनी है। धोनी ने टीम को 72 मैचो में 41 में जीत दर्ज करवायी है। भारत ने अबतक न्यूजीलैंड में एक भी टी-20 मैच नही जीता है। रोहित इतिहास रच सकते है अगर टीम यहां सीरीज जीतने में समर्थ रहती है।

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *