Mon. Mar 4th, 2024
    दक्षिण कोरिया और भारत

    भारत और दक्षिण कोरिया ने शुक्रवार को केन्द्रीय रक्षा मन्त्री राजनाथ सिंह और उनके समकक्षी के मौजूदगी में दो समझौतों पर दस्तखत किये थे। इसका मकसद दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग को बढ़ाना है।

    भारत-दक्षिण कोरिया के चार समझौते

    रक्षा मंत्री के दफ्तर ने ट्वीट किया कि “मंत्रियो ने साझा हितो ने क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय विकासो पर अपने विचार को साझा किया है। रक्षा शैक्षिक विनिमय और एक दुसरे की नौसेना से लॉजिटिकल में विस्तार पर दो समझौतो पर दस्तखत किये हैं। यह समझौते भारत-दक्षिण कोरिया के रक्षा सहयोग के विस्तार करने में मददगारी होगा।”

    इस दिन की शुरुआत में रक्षा मंत्री ने दक्षिण कोरिया के समकक्षी जेओंग क्योंग डू के साथ द्विपक्षीय वार्ता की थी और उन्होंने दोनों देशो के रक्षा सहयोग की समीक्षा की थी। सिंह बुधवार से दक्षिण कोरिया की तीन दिवसीय यात्रा पर है और इसका मकसद द्विपक्षीय रक्षा और सुरक्षा संबंधो का विस्तार करना है।

    दक्षिण कोरिया के सहयोग के कारण भारतीय सेना रक्षा उपकरणों का उत्पादन कर रही है। दोनों नेताओं ने दक्षिण कोरिया की न्यू साउथर्न पालिसी और भारत की एक्ट ईस्ट पालिसी के एकसमान लक्ष्यों को साझा किया था। बिज़नेस टू गवर्मेन्ट के सीईओ के सम्मेलन का आयोजन होगा। इसमे दोनो पक्षो के रक्षा अधिकारी शामिल होंगे।

     

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *