शुक्रवार, दिसम्बर 13, 2019

भारत में होगा कृषि सांख्यिकी पर पहला अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन, बिल गेट्स होंने मुख्य अतिथि

Must Read

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष...

भारत में पहली बार कृषि सांख्यिकी विषय पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है, जिसमें माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के महानिदेशक और कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग के सचिव त्रिलोचन महापात्र ने यहां शुक्रवार को एक प्रेसवार्ता में बताया कि अगले हफ्ते दिल्ली में कृषि सांख्यिकी पर आठवें अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है। उन्होंने बताया कि भारत पहली बार इस सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है, जिसमें देश-विदेश के कृषि वैज्ञानिक कृषि सांख्यिकी के महत्व पर विचार-विमर्श करेंगे।

चार दिवसीय इस सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र तोमर करेंगे और इस मौके पर अरबपति अमेरिकी कारोबारी बिल गेट्स बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे।

महापात्रा ने बताया, “इस सम्मेलन में देश के युवा वैज्ञानिकों और शिक्षकों को विदेश से आने वाले कृषि विशेषज्ञों के साथ बैठकर चर्चा करने का मौका मिलेगा। विदेशों में कृषि सांख्यिकी, आंकड़ों के विश्लेषण और उसका उपयोग करने को लेकर जो कार्यक्रम चल रहा है, उसकी जानकारी उन्हें मिलेगी और छात्रों को शोध में इससे काफी मदद मिलेगी और शिक्षकों को शिक्षण कार्य में मदद मिलेगी।”

उन्होंने कहा, “विदेशों में डाटा विज्ञान पर जो शोध हो रहा है, उसकी जानकारी मिलेगी। इससे हमें शोध में भी मदद मिलेगी।”

महापात्र ने कहा, “हमारे देश में पहले कभी इस सम्मेलन का आयोजन नहीं हुआ था और सांख्यिकी के क्षेत्र में हमारे देश के कई विशेषज्ञों ने विदेशों में और एफएओ में अपना योगदान दिया है। लिहाजा, विश्व के साथ जुड़कर काम करने से हमें उसी तरह का लीडरशिप मिल सकता है।”

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा आयोजित इस सम्मेलन में खाद्य एवं कृषि संगठन (एफएओ), अमेरिकी कृषि विभाग (यूएसडीए), आईएसआई-कास, यूरोस्टेट, सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के साथ-साथ कई राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय संगठन हिस्सा ले रहे हैं।

कृषि मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, सम्मेलन में करीब 1,200 प्रतिभागी हिस्सा लेंगे।

मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि इस सम्मेलन में एफएओ, यूएसडीए, यूरोस्टेट, एडीबी, एएफडीबी, विश्व बैंक और दुनियाभर के 60 से अधिक देशों के करीब 200 प्रतिनिधियों समेत विभिन्न संगठनों के कुल 600 से अधिक प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

‘मर्दानी 2’ में रानी मुखर्जी के काम की ट्विटर पर सराहना

गोपी पुथरण निर्देशित फिल्म 'मर्दानी 2' शुक्रवार को रिलीज की गई। फिल्म में रानी मुखर्जी मुख्य किरदार में हैं।...

चिली विमान हादसे में किसी के बचने की उम्मीद कम

चिली की वायुसेना ने कहा है कि अधिकारियों ने अंटार्कटिका के लिए रवाना हुए 38 लोगों के साथ दुर्घटनाग्रस्त सैन्य विमान से किसी भी...

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 : अब संथाल, कोयलांचल में बिछेगी सियासी बिसात

झारखंड विधानसभा चुनाव के तीन चरणों का मतदान समाप्त हो जाने के बाद अब दो चरणों का मतदान शेष है। शेष दो चरणों के...

अरुणाचल के लोवर डिबांग वैली में जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी शुरू

देश की सबसे कठिन और सबसे रोमांचक ऑफ रोडिंग प्रतियोगिताओं में से एक जेके टायर ऑरेंज 4गुणा4 फ्यूरी का शुक्रवार को यहां लोवर डिबांग...

पाकिस्तान : लाहौर अस्पताल हमला मामले में 250 वकीलों पर मुकदमा

पुलिस ने लाहौर में पाकिस्तान इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी (पीआईसी) पर हमला करने और संपत्ति को लूटने के लिए विभिन्न आपराधिक आरोपों के तहत 250...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -