गुरूवार, अक्टूबर 24, 2019

भारत-इंग्लैंड संयुक्त रुप से विश्वकप के लिए पसंदीदा- हरभजन सिंह

Must Read

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है।...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते...
अंकुर पटवाल
अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

आईसीसी विश्वकप 2019 के लिए अब मेहज एक हफ्ते से भी कम का समय बाकि है। सभी 10 टीम अब इंग्लैंड पहुंच चुकी है और मेगा इवेंट के लिए तैयारियो में जुट गई है। आज 24 मई से सभी टीमें विश्वकप के उद्घाटन से पहले 2-2 अभ्यास मैच में हिस्सा लेंगी।

विश्व के लिए अब जैसे कुछ दिन ही बाकी है ऐसे में कौन सी टीम विश्वकप के खिताब पर कब्जा करेगी, कौन सी चार टीमे सेमीफाइनल में जगह बनाएगी, कौन सा बल्लेबाज सर्वाधिक रन बनाएगा और कौन सा गेंदबाज सर्वाधिक विकेट लेगा। इन सब चीजो के लिए क्रिकेट जगत में भविष्यावणी तेज हो गई है। ऐसे में अब भारतीय टीम के दिगग्ज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने इंग्लैंड मेजबान इंग्लैंड के साथ विश्वकप जीतने के लिए भारत को पसंदीदा बताया है।

इंग्लैंड वर्तमान आईसीसी वनडे रैंकिंग में शीर्ष पर है कई क्रिकेट विशेषज्ञो और क्रिकेट पंडितो ने मेजबान टीम को विश्वकप के खिताब पर कब्जा करने के लिए पसंदीदा बताया है। जब हरभजन सिंह से पूछा गया कि विश्वकप के लिए पसंदीदा टीम कौन है भज्जी ने कहा, ” भारत, भारत और इंग्लैंड मुझे लगता है।” भारत से उम्मीदें अधिक हैं कि 1983 में इंग्लैंड में टूर्नामेंट में प्रसिद्ध पहली सफलता का अनुकरण करते हुए, विराट कोहली की टीम तीसरा विश्व खिताब जीत सकती है।

हरभजन, जिन्होंने वनडे में 417 टेस्ट विकेट और वनडे में 269 विकेट चटकाए है स्वीकार करते हैं कि भारतीय जनता की सफलता की तीव्र इच्छा, विराट कोहली की टीम के लिए अपने स्वयं के दबाव लाएगी। उन्होंने कहा, “यह बदल रहा है। यह पहले से बहुत बेहतर है। फिर भी दबाव रहेगा। न सिर्फ विराट कोहली बल्कि पूरी टीम पर।”

अपने पहले विश्व कप मुकुट का पीछा करते हुए, इंग्लैंड एक जबरदस्त ताकत के रूप में उभरा है, जबकि गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को भी पिछले पांच संस्करणों में से चार जीतने के बाद अत्यधिक माना जाता है।

लेकिन भारत, वर्तमान में वनडे रैंकिंग में दूसरे स्थान पर है और टीम ने 2011 विश्वकप में ऑस्ट्रेलिया की टीम को सेमीफाइनल में बाहर करके उनके 20 साल के प्रभुत्व को तोड़ा था।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है। यहां जिला पंचायत सीटों के...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते हुए बुधवार को सभी कंपनियों...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -