Sun. Feb 5th, 2023
    अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष

    अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा हाल ही में पेश की गई एक रिपोर्ट के अनुसार भारत विश्व की सबसे तेज बढती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है। रिपोर्ट में बताया गया है की भारत ने पिछले 5 वर्षों में अपनी अर्थ्च्यावस्था में काफी सुधार किये हैं लेकिन ऐसी ही विकास दर बनाए रखने के लिए और भी सुधार करने की ज़रुरत है।

     आईएमएफ के संचालक का बयान :

    भारत की अर्थव्यवस्था के इस तेजी से बढती दर पर आईएमएफ के संचालक ने कहा की भारत की अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर पिछले पांच वर्षों से 7 प्रतिशत तक रही है जिससे इसे सबसे तेजी से बढती अर्थव्यवस्था का दर्जा मिला है। हालंकि यदि भारत को यही दर बानी रखनी है और इतनी ही तेजीसे बढ़ना है तो इसे और भी नयी योजनाएं लानी होंगी और सुधार करने होंगे।

    2019 में भारत की विकास दर होगी सबसे ज्यादा :

    अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा प्रकाशित जनवरी विश्व अर्थव्यवस्था आउटलुक में यह अनुमान लगाया गया है की भारत में 2019 में 7.5 प्रतिशत और 2020 में 7.7 प्रतिशत की वृद्धि का अनुमान है, जो चीन के अनुमानित विकास दर 6.2 प्रतिशत से एक पॉइंट अधिक है।

    आईएमएफ के अनुसार ‘2019 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर बढ़ने की पूरी संभावना है। ऐसा अनुमान कीमतों में कमी एवं मौद्रिक कसाव के चलते लगाया जा रहा है। इन कारकों से भारतीय अर्थव्यवस्था को फायदा होने वाला है।’

    2030 तक अमेरिका को पछाड़ेगा भारत :

    प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन के दौरान बताया की भारत सबसे तेज़ बढती अर्थव्यवस्था है और कुछ समय पहले 6ठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चूका है। अगर वृद्धि दर इसी स्तर से बढती है तो चंद वर्षीं में यह दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन्ने में सक्षम है। स्टैण्डर्ड चार्टर्ड की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था सयुंक्त राज्य अमेरिका को पछाड़ कर बनेगा।

    अनिश्चित वैश्विक आर्थिक माहौल में, भारत ने विश्व अर्थव्यवस्था में जबरदस्त लचीलापन दिखाया है और बताया है की विश्व की सभी अर्थव्यवस्थाओं का यह नेतृत्व करने में सक्षम है।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *