Sun. Apr 21st, 2024
    भारत और अमेरिका

    अमेरिका और भारत ऊर्जा, एयरोस्पेस, डिफेन्स, फ़र्मैटिकल और स्वास्थ्य सुविधाओं में द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ाने की योजना तैयार कर रहे हैं। भारत और अमेरीका की शीर्ष कंपनियों के प्रमुख कर्मचारियों साथ सात समूह बनाए गए हैं। इनका मुख्य फोकस वित्तीय व्यापार और निवेश पर होगा। साथ ही छोटे और मझोले कारोबार को साथ लाना इनकी जिम्मेदारी होगी।

    भारत में नियुक्त अमेरिका के राजदूत ने कहा कि यह कर्मचारी समूह कंपनियों के सीईओ को मिलाकर बनाए गए है। भारत और अमेरीका ने नजदीकी राजनीतिक और सुरक्षा संबंध बनाए है। साल 2017 में दोनो राष्ट्र के मध्य द्विपक्षीय व्यापार 126 अरब डॉलर था।

    भारत के व्यापार मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि वृद्धि के लिए हम टू-वे व्यापार और निवेश का निर्माण कर रहे हैं। भारत सरकार ने ट्वीट कर कहा कि इस चर्चा में टाटा के चैयरमेन एन चंद्रशेखरन और अमेरिकी टावर सीईओ जेम्स टेस्लेट भी शामिल होंगे।

    भारत सरकार के मुताबिक अमेरीका और भारत के अधिकारी दोनों राष्ट्र के मध्य व्यापार और निवेश में उपजे मतभेदों का समाधान करेंगे। अमेरिकी वाणिज्य मंत्री विल्वर रॉस ने खराब मौसम के कारण अपनी यात्रा को रद्द कर दिया है। वह नई दिल्ली में आयोजित बैठक में कॉन्फ्रेस के माध्यम से जुड़ेंगे, उनकी को रद्द कर दिया गया था।

    उन्होंने कहा कि दोनो सरकारे बीते वर्ष एल्मुनियम पर लगाए टैरिफ के बाबत बातचीत करेंगे। भरता और अमेरिका के मध्य कई मसलों पर मतभेद बने हुआ हैं।  हाल ही में भारत सरकार ने ई कॉमर्स साइट के नए नियमों को लागू किया था, जिससे अमेरिका की वॉलमार्ट और अमेज़न पर काफी प्रभाव पड़ा था।

    अमेरिका और भारत मध्य व्यापार घाटे को लेकर भी लेकर भी अमेरिकी राष्ट्रपति ने नाराजगी जताई है। हाल ही में हार्ले डविडशन को लेकर काफी मतभेद हुआ था। अमेरिका में भारत ‘जेनेरलिज़्ड सिस्टम ऑफ़ प्रेफरेंस’ के तहत 5.6 अरब डॉलर तक के 2000 उत्पाद बगैर शुल्क के निर्यात करता है। रायटर्स के बीते हफ्ते की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका इस वर्ग से भारत को निकालने की फिराक में है क्योंकि भारत ने ऑनलाइन सेल और फॉरेन कार्ड कंपनी के लिए सख्त नियम लागू किये हैं।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *