Sat. Apr 20th, 2024
    भारतीय सैनिक

    रक्षा अधिकारियों ने कहा कि सोमवार को भारतीय आर्मी ने पाकिस्तान के सैन्य प्रशासन के मुख्यालय पर हमला किया था। उन्होंने कहा कि यह हाल ही में पुंछ और झाल्लास पर पाकिस्तानी सेना के घेराव का बदला है। भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर खुइरत्ता और समानी इलाकों पर हमला किया था।

    पाकिस्तान की सेना ने जम्मू कश्मीर में 23 अक्टूबर को ब्रिगेड के मुख्यालय और अन्य अन्य सैन्य ठिकानों का घेराव किया था। रक्षा अधिकारी के मुताबिक भारत की सेना ने पाकिस्तान से हमले का जबरदस्त बदला लिया है। उन्होंने दावा किया कि बॉर्डर पर रह रहे गांववासियों ने इस घटना की तस्वीरे ली है और उन्होंने बताया है कि पाकिस्तान के मुख्यालय से धुआं उठ रहा था।

    सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेना ने लाइन ऑफ़ कंट्रोल के नजदीक रह रहे नागरिकों को कोई नुकसान नहीं पहुचाया है। पीओके में हाजिर, बंदी, गोपालपुर, निकिअल, समानी और खुइरत्ता गांवे बसे हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस हमले से पाकिस्तान की साल 2016 में हुई सर्जिकल स्ट्राइक के जख्म हरे हो गए होंगे। उन्होंने कहा कि अब दबाव पाकिस्तान की सेना पर है कि बॉर्डर पर सचेत और तैयार रहे।

    सरकारी अधिकारी ने कहा कि हाल ही में पाकिस्तान बॉर्डर एक्शन टीम के दो सैनिकों को भारतीय आर्मी ने 21 अक्टूबर को सुन्देरबानी इलाके में मार गिराया था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने अपने सैनिकों के शव लेने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की सेना पीओके में युवाओं को बरगलाती है और उनका ब्रेनवाश करती है।

    उन्होंने कहा कि अपने सैनिकों उर्फ़ आतंकियों के शवों को स्वीकार नहीं किया था। यह पाकिस्तान की असलियत बयान करता है। एलओसी के कई ऑपरेशन में पाकिस्तान के आतंकी भी समान रूप से हमलों में शामिल होते हैं।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *