Thu. Jun 13th, 2024
    ravindr kushwaha

    अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर के निर्माण के लिए हिंदुत्व संगठनों द्वारा एक बिल लाने की मांग के मद्देनज़र बीजेपी के सांसद (संसद सदस्य) रविंद्र कुशवाह ने दावा किया है कि राम मंदिर के निर्माण के लिए संसद के शीतकालीन सत्र में एक विधेयक पेश किया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि अगर विधेयक राज्यसभा में पारित होने में विफल रहता है तो सरकार इस उद्देश्य के लिए एक अध्यादेश लाएगी।

    बलिया में संवाददाताओं से बात करते हुए सलेमपुर से संसद सदस्य ने कहा, ‘राम मंदिर निर्माण के लिए विधेयक निश्चित रूप से 11 दिसंबर से शुरू होने वाले संसद के आने वाले शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा, लेकिन यदि यह राज्यसभा द्वारा पारित होने में विफल रहता है, तो इस उद्देश्य के लिए अध्यादेश लाया जाएगा।’

    बीजेपी के सांसद ने कहा कि ‘चूंकि भारतीय जनता पार्टी के पास ऊपरी सदन (राज्यसभा) में बहुमत नहीं है, इसलिए मुझे यकीन नहीं है कि बिल पास हो पायेगा, लेकिन मुझे यकीन है कि यह निश्चित रूप से लोकसभा में पारित हो जाएगा।’

    कुशवाह की टिप्पणी विवादित स्थल पर राम मंदिर के निर्माण के लिए समर्थन हासिल करने के लिए विश्व हिंदू परिषद द्वारा आयोजित 25 नवंबर को अयोध्या में ‘धर्म सभा’ ​​आयोजित करने से ठीक पहले आई है।

    25 नवम्बर को विश्व हिन्दू परिषद् अयोध्या में एक विशाल रैली का आयोजन कर रही है जिसे संघ और संत समाज का भी समर्थन प्राप्त है। इस रैली में दो लाख रामभक्तों के अयोध्या में जुटने का दावा किया जा रहा है। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे भी 25 नवम्बर को अयोध्या में रहेंगे। 2019 के लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र अयोध्या एक बार फिर से देश की राजनीति के केंद्र में है।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *