मंगलवार, जनवरी 21, 2020

भाजपा संसदीय दल की बैठक में लगी सांसदों की क्लास : मोदी बोले अनुपस्थिति बर्दाश्त नहीं

Must Read

जल संरक्षण का महत्व

जल संरक्षण क्यों जरूरी है? स्वच्छ, ताजा पानी एक सीमित संसाधन है। दुनिया में हो रहे सभी गंभीर सूखे के...

भारत में रियलमी करेगा स्नैपड्रैगन की 720जी चिप के साथ फोन लॉन्च

चीन की स्मार्टफोन निर्माता रियलमी के सीईओ माधव शेठ ने मंगलवार को भारत में नए स्नैपड्रैगन 720जी एसओजी (सिस्टम-ऑन-चिप)...
हिमांशु पांडेय
हिमांशु पाण्डेय दा इंडियन वायर के हिंदी संस्करण पर राजनीति संपादक की भूमिका में कार्यरत है। भारत की राजनीति के केंद्र बिंदु माने जाने वाले उत्तर प्रदेश से ताल्लुक रखने वाले हिमांशु भारत की राजनीतिक उठापटक से पूर्णतया वाकिफ है। मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक करने के बाद, राजनीति और लेखन में उनके रुझान ने उन्हें पत्रकारिता की तरफ आकर्षित किया। हिमांशु दा इंडियन वायर के माध्यम से ताजातरीन राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर अपने विचारों को आम जन तक पहुंचाते हैं।

देश की संसद में मानसून सत्र का कार्यकाल चल रहा है। अभी तक का सत्र काफी हंगामे भरा रहा है और विपक्ष की वजह से कार्यवाही में व्यवधान भी पड़ा है। मायावती के इस्तीफे का मामला भी छाया रहा है। इसके अतिरिक्त विपक्ष ने मॉब लिंचिंग, कश्मीर और सीमा विवाद पर भी सरकार को घेरने की कोशिश की है। इन सबसे निपटने और आगे की रूपरेखा तैयार करने के लिए भाजपा के संसदीय दल की बैठक हुई।

मंगलवार को संसद का सत्र शुरू होने से पहले भाजपा के संसदीय दल की बैठक हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इसमें शामिल हुए। उम्मीद है कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज संसद में इराक में लापता हुए 39 भारतीयों के मुद्दे पर अपना जवाब दे सकती हैं। गौरतलब है कि सोमवार को कांग्रेस के 6 सांसदों को स्पीकर पर कागज उछालने के आरोप में सुमित्रा महाजन ने लोकसभा से बर्खास्त कर दिया था। आज इस मुद्दे पर भी हंगामा हो सकता है।

अनुपस्थित ना रहे सांसद – मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा सांसदों को फटकार लगाते हुए कहा कि संसद में उनकी अनुपस्थिति बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सरकार को कई जरूरी बिल पास कराने है और सांसदों की अनुपस्थिति की वजह से वो हर बार बीच में ही अटक जा रहे हैं। उन्होंने सांसदों को निर्देश दिया कि वह संसद की कार्यवाही में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएं और सदन में सरकार को मजबूती प्रदान करें।

संसदीय दल की बैठक के बाद तुरन्त भाजपा नेता अनंत कुमार ने कहा कि सरकार आजादी के 70 सालों को मनाने के लिए 9 अगस्त से 15 अगस्त तक विशेष कार्यक्रम आयोजित करेगी। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के भाषण का जिक्र करते हुए कहा कि देश ने 1857 में पहली बार आजादी पाई थी। इस आजादी को 1942 में एक मुकाम हासिल हुआ था। वर्ष 1947 से वर्ष 2017 के बीच देश ने एक नयी ऊँचाई हासिल की और 2022 तक भारत विश्वपटल पर महाशक्ति बनकर उभरेगा।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

जल संरक्षण का महत्व

जल संरक्षण क्यों जरूरी है? स्वच्छ, ताजा पानी एक सीमित संसाधन है। दुनिया में हो रहे सभी गंभीर सूखे के...

भारत में रियलमी करेगा स्नैपड्रैगन की 720जी चिप के साथ फोन लॉन्च

चीन की स्मार्टफोन निर्माता रियलमी के सीईओ माधव शेठ ने मंगलवार को भारत में नए स्नैपड्रैगन 720जी एसओजी (सिस्टम-ऑन-चिप) के साथ स्मार्टफोन लॉन्च करने...

झारखंड : नई सरकार के शपथ ग्रहण के 24 दिनों बाद भी नहीं हुआ मंत्रिमंडल विस्तार, गैरों के साथ अपने भी कस रहे तंज!

झारखंड में नई सरकार का शपथ ग्रहण 29 दिसंबर को हुआ था। अबतक 24 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अभी भी मंत्रिमंडल का विस्तार...

त्रिपुरा, मणिपुर और मेघालय ने मनाया 48 वां राज्य दिवस

त्रिपुरा, मणिपुर और मेघालय ने मंगलवार को अलग-अलग अपना 48वां राज्य दिवस मनाया। इस मौके पर कई रंगा-रंग कार्यक्रम पेश किए गए। राष्ट्रपति रामनाथ...

महाराष्ट्र : भाजपा ने राकांपा के मंत्री के बयान पर आपत्ति जताई, बताया हिंदू विरोधी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता और महाराष्ट्र के मंत्री जितेंद्र अवध के बायन पर मंगलवार को कड़ी आपत्ति...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -