Mon. May 27th, 2024
    भाजपा प्रतिद्वंद्वियों के दोष खोजने और आरोप लगाने के बजाय जमीन पर काम करती है: पीएम मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भाजपा केंद्रीय कार्यालय के विस्तार का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने भाजपा के आवासीय परिसर और सभागार का भी उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि देश में परिवार द्वारा संचालित राजनीतिक दलों के बीच भाजपा एकमात्र अखिल भारतीय पार्टी के रूप में उभरी है, क्योंकि इसने अपने प्रतिद्वंद्वियों के दोषों को खोजने और आरोप लगाने के बजाय सभी बाधाओं को पार करते हुए जमीन पर काम किया।

    उन्होंने कहा कि जब भाजपा आती है, तब भ्रष्टाचार भागता है। मनी लॉन्ड्रिंग निरोधक अधिनियम की तहत कांग्रेस की सरकार (2004-2014) में 5000 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की गई। इसी अधिनियम के तहत भाजपा ने पिछले 9 वर्षों में 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपए से अधिक संपत्ति जब्त की है। आज भारत को रोकने के लिए इस नींव पर चोट की जा रही है। जो लोग भ्रष्टाचार में लिप्त हैं, उन पर जब एजेंसियां कार्रवाई करती हैं तो एजेंसियों पर हमला किया जाता है। जब कोर्ट कोई फैसला सुनाता है तो कोर्ट पर सवाल उठाया जाता है। कुछ दलों ने मिलकर भ्रष्टाचारी बचाओ अभियान छेड़ा हुआ है।

    उन्होंने कहा कि सात दशक में पहली बार भ्रष्टाचारियों के खिलाफ इस तरह की कार्रवाई की जा रही है। पीएम ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, जब हम इतना करेंगे तो कुछ लोग परेशान होंगे और नाराज होंगे लेकिन उनके झूठे आरोपों से भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई नहीं रुकेगी।

    पीएम मोदी ने कहा, भाजपा के एक छोटे राजनीतिक संगठन से दुनिया के सबसे बड़े राजनीतिक दल तक पहुंचने का श्रेय पार्टी कार्यकर्ताओं के समर्पण और बलिदान को दिया। परिवारवादी राजनीतिक दलों के बीच भाजपा एक ऐसा राजनीतिक दल है, जो युवाओं को अवसर देता है। हमें भारत की महिलाओं का आशीर्वाद प्राप्त है। उन्होंने कहा, ‘बीजेपी ने महज दो लोकसभा सीटों से अपना सफर शुरू किया और 2019 में 303 सीटों पर पहुंच गई। कई राज्यों में हमें 50 फीसदी से ज्यादा वोट मिले।’

    पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा न केवल दुनिया की सबसे बड़ी बल्कि सबसे भविष्यवादी पार्टी के रूप में उभरी है, उन्होंने कहा कि इसका एकमात्र लक्ष्य एक आधुनिक और विकसित भारत बनाना है। उन्होंने कहा, “उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पश्चिम तक, भाजपा आज अखिल भारतीय पार्टी है।”

    उन्होंने कहा कि हमें भाजपा को एक ऐसी संस्था के रूप विकसित करना है जिसके पास अगले 10-50 वर्ष तक लक्ष्य निर्धारित हो। इसके लिए 3 बातें जरूरी है-अध्ययन, आधुनिकता और विश्वभर से अच्छी बातों को आत्मसात करने की शक्ति।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *