बुधवार, सितम्बर 18, 2019

बेल्ट एंड रोड और चीन-अफ्रीका सहयोग पर अंतर्राष्ट्रीय मंच काहिरा में संपन्न

Must Read

जेलों में भीड़ घटाने मोदी सरकार बनाएगी 199 नई जेलें

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। देश की जेलों में कैदियों की दिन-ब-दिन बढ़ती भीड़ ने सरकार को परेशान कर...

शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत, सेंसेक्स-निफ्टी दोनों में बढ़त

मुंबई, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजार में सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन यानी बुधवार को कारोबार की...

इरा खान के नाटक में हेजल करेंगी अभिनय

मुंबई, 18 सितंबर (आईएएनएस)। सुपरस्टार आमिर खान की बेटी इरा खान एक नाटक के साथ निर्देशन के क्षेत्र में...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

बीजिंग, 17 जून (आईएएनएस)| बेल्ट एंड रोड (Belt and Road) व चीन-अफ्रीका सहयोग पर अंतर्राष्ट्रीय मंच 16 जून को मिस्र की राजधानी काहिरा (Cairo) में आयोजित हुआ। नाइजीरिया, केन्या, चीन, मिस्र समेत देशों के 80 से अधिक सरकारी अधिकारियों, उद्यमियों, विशेषज्ञों और विद्वानों ने संबंधित मुद्दों पर विचार-विमर्श किया।

वर्तमान मंच चीनी बेल्ट एंड रोड अफ्रीकी अनुसंधान गठबंधन और मिस्र के ऐन शम्स विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित हुआ। इसमें उपस्थित अतिथियों ने बेल्ट एंड रोड व चीन-अफ्रीका, चीन-अफ्रीका के उद्योग को बढ़ावा, बेल्ट एंड रोड की पृष्ठभूमि में चीन-मिस्र संबंधों, अफ्रीका की औद्योगिकीकरण प्रक्रिया और व्यावसायिक और तकनीकी शिक्षा के विकास पर विचार-विमर्श किया।

मिस्र स्थित चीनी मंत्री वाणिज्यिक काउंसलर हान पिंग ने अपने संबोधन में कहा, “मिस्र बेल्ट एंड रोड के निर्माण में प्राकृतिक साथी है। इधर के सालों में द्विपक्षीय व्यापार में स्पष्ट वृद्धि हुई। वित्तीय सहयोग लगातार बढ़ता रहता है। सांस्कृतिक आदान-प्रदान का तेज विकास हो रहा है। वर्ष 2019 अफ्रीकी संघ के वर्तमान अध्यक्ष देश के रूप में मिस्र बेल्ट एंड रोड के ढांचे के तहत चीन-अफ्रीका संबंधों को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है।”

मिस्र के ऐन शम्स विश्वविद्यालय के प्रमुख अब्देल वहाब इज्जत ने संवाददाताओं से कहा, “पिछले जनवरी में ऐन शम्स विश्वविद्यालय और चीन के रेनमिन विश्वविद्यालय ने संयुक्त रूप से बेल्ट एंड रोड अनुसंधान केंद्र स्थापित किया। ऐन शम्स विश्वविद्यालय चीन व अफ्रीका के अन्य विश्वविद्यालयों के साथ बेल्ट एंड रोड की संबंधित नीतियों का अनुसंधान करने, सरकार के संबंधित विभागों को सुझाव देने और मिस्र-चीन, अफ्रीका-चीन के विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग के लिए अकादमिक समर्थन देने को तैयार है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

जेलों में भीड़ घटाने मोदी सरकार बनाएगी 199 नई जेलें

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। देश की जेलों में कैदियों की दिन-ब-दिन बढ़ती भीड़ ने सरकार को परेशान कर...

शेयर बाजार की मजबूत शुरुआत, सेंसेक्स-निफ्टी दोनों में बढ़त

मुंबई, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजार में सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन यानी बुधवार को कारोबार की शुरुआत सकारात्मक रुख के साथ...

इरा खान के नाटक में हेजल करेंगी अभिनय

मुंबई, 18 सितंबर (आईएएनएस)। सुपरस्टार आमिर खान की बेटी इरा खान एक नाटक के साथ निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखने जा रही हैं।...

योगी विकास की धार से बना रहे उपचुनाव में जीत का रास्ता

लखनऊ, 18 सितंबर (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का उपचुनाव का अनुभव अभी तक अच्छा नहीं रहा है। इसी कारण पार्टी की अब पूरी...

हत्यारे 2 लाख रुपये घटनास्थल पर क्यों छोड़ गए?

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। यहां पूर्वी ज्योति नगर इलाके में रहने वाले इलेक्ट्रॉनिक्स के एक व्यापारी की हत्या के मामले में पुलिस को...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -