Sun. May 19th, 2024
    तेजस्वी यादव

    राजद के प्रमुख नेता और लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव अब बेरोजगारी हटाने के लिए यात्रा करेंगे।

    तेजस्वी यादव की यह यात्रा उत्तरी बिहार के दरभंगा से शुरू होगी। तेजस्वी ने मीडिया को यह बताया है कि उनकी यात्रा का मुख्य उद्देश्य बेरोजगारी को हटाना और ‘आरक्षण कोटे को बढ़ाना’ है।

    तेजस्वी की यह ‘बेरोज़गारी हटाओ आरक्षण बढ़ाओ’ यात्रा अगले दो दिनों में सुपौल और भागलपुर के रास्ते आगे बढ़ेगी।

    बिहार में विपक्ष के नेता की भूमिका निभा रहे तेजसवी यादव का कहना है कि वो सरकार से चाहते हैं कि एससी, एसटी और ओबीसी के लिए आरक्षण की जद को 50 प्रतिशत से आगे बढ़ाया जाए। इसी के साथ ही तेजस्वी ने गरीब सवर्णों के लिए हाल ही में शुरू हुए 10 प्रतिशत आरक्षण पर भी सवाल उठाए हैं।

    तेजस्वी ने लगातार कई ट्वीट करते हुए बताया है कि वो चाहते हैं कि पिछड़ों के लिए आरक्षण सीमा को बढ़ाकर 90 प्रतिशत तक किया जाये-

    तेजस्वी ने सवर्ण आरक्षण पर सवाल उठाते हुए कहा है कि ‘उन्हे यह नहीं समझ आ रहा है कि जब सवर्णों की तरफ से आरक्षण की कोई माँग ही नहीं की गयी थी, फिर भी उन्हे आरक्षण क्यों दिया गया?’

    इसी के साथ ही तेजस्वी ने जातीय जनगणना की भी माँग कर डाली है। वहीं बीजेपी-आरएसएस पर हमला बोलते हुए तेजस्वी ने यह आरोप लगाया है कि ये आरक्षण को बिलकुल समाप्त कर देना चाहते हैं।

    चारा घोटाले में सजा काट रहे अपने पिता के समर्थन में बोलते हुए तेजस्वी ने पहले भी ट्वीट किया था कि यदि उनके पिता बीजेपी के साथ हाथ मिला लेते तो उन्हे कोई दिक्कत नहीं होती, लेकिन उन्होने ऐसा नहीं किया जिसकी वजह से उन्हे झूठा फसाया गया है-

    गौरतलब है कि तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के साथ गठबंधन करते हुए 2015 के विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज़ करते हुए बिहार में सरकार बनाई थी, लेकिन बाद में नितीश के वापस एनडीए में शामिल हो जाने के बाद तेजस्वी को सत्ता से हाथ धोकर अब विपक्ष में बैठना पड़ रहा है।

     

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *