Wed. Nov 30th, 2022
    बीएसएनएल प्लान में बदलाव

    हाल ही में टेलीकॉम बाजार में बड़ी प्रतिस्पर्धा का दौर चल रहा है जहां विभिन्न प्रदाता नए एवं आकर्षक प्लान लाकर ज़्यादा ग्राहकों को लुभाना चाह रहे हैं। इनमे सभी प्रदाता जिओ के खिलाफ लड़ रहे हैं क्योंकि जिओ ग्राहकों को सबसे सस्ते प्लान दे रहा है। ऐसे में दुसरे प्रदातों के ग्राहक भी जिओ से जुड़ते जा रहे हैं।

    ऐसे में सभी प्रदाताओं की कोशिश यह है की सबसे सस्ता एवं किफायती प्लान बाजार में लाया जाए। लेकिन हां ही में बीएसएनएल ने कुछ ऐसा किया है जिससे उसके ग्राहकों में कमी ज़रूर आ सकती है।

    99 रूपए के प्लान की वैद्यता में बदलाव:

    सबसे पहले बीएसएनएल ने अपने 99 रूपए के वोईस ओनली प्लान की वैद्यता को घटा दिया है। यूजर को पहले यह प्लान 26 दिनों की विद्यता के साथ मिल रहा था लेकिन अब बीएसएनएल द्वारा इस प्लान की वैद्यता घटाकर 24 दिन कर दी गयी है। हालांकि यह इतना बड़ा बदलाव नहीं है लेकिन जब दुसरे सभी प्रदाता अपने प्लान में सुधर करने पर जोर दे रहे हैं ऐसे समय में यह कदम उठाना समझदारी नहीं लगती है।

    99 रूपए के प्रीपेड प्लान के साथ साथ,  बीएसएनएल ने 29 रुपये और 39 रुपये के एसटीवी में भी संशोधन किया है। 29 रुपये का प्रीपेड एसटीवी, जिसमें अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग, 1GB डेटा, 300 SMS और मुफ्त PRBT टोन का लाभ सात दिनों के लिए दिया जा रहा था, अब इस प्लान में ग्राहकों को PRBT का लाभ नहीं दिया जा रह है। PRBT का मतलब personalised ringback tone है जिसके अंतर्गत ग्राहक अपने हिसाब से रिंगटोन सेट कर सकता है।

    सिम रिप्लेसमेंट शुल्क में 10 गुना बढ़ोतरी :

    एक प्लान की वैद्यता घटाने के अलावा बीएसएनएल ने एक और कदम उठाया है जिसके अंतर्गत अब हर ग्राहक की सिम रिप्लेसमेंट शुल्क में 10 गुना की बढ़ोतरी कर दी गयी है। पहले सिम की रिप्लेसमेंट के लिए ग्राहक को केवल 10 रूपए देने होते थे लेकिन अब इस शुल्क को बढ़ाकर 100 रूपए कर दिया गया है।

    हाल ही में यह खबर मिली है की बीएसएनएल अपनी 4G सिम केवल 19 रूपए में दे रहा है लेकिन अब इस पर पक्का नहीं कहा जा सकता है की इन सिम को लेने पर भी 100 रूपए चुकाने होंगे या केवल 19 रूपए चुकाने होंगे।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *