Sat. Sep 30th, 2023
    बीएसएनएल का नया प्लान

    बीएसएनएल अपने सभी प्रमुख सर्किलों में मौजूदा स्पेक्ट्रम के साथ 4 जी सेवाओं का परीक्षण कर रहा है। बतादें की बीएसएनएल को सरकार द्वारा कुछ समय पहले ही 4G स्पेक्ट्रम का आवंटन किया गया है और अब यह निजी ऑपरेटरको प्रतिस्पर्धा देने के लिए तेजी से अपनी 4G सेवाओं का विस्तार कर रहा है। 

    गुजरात और केरला से शुरू हुई सेवा :

    वास्तव में, केरल के अधिकांश हिस्सों में, टेल्को ने पहले ही ग्राहकों को 3G सेवा देनीबंद कर दी है। इसेक साथ ही यह वर्तमान में केवल 2G और 4G सेवाएं प्रदान कर रहा है।

    एक नए अपडेट में, BSNL ने गुजरात टेलीकॉम सर्कल में VoLTE या वॉयस ओवर LTE सेवा देनी शुरू कर दी है। 4 जी सिम कार्ड के साथ उक्त सर्कल में बीएसएनएल ग्राहक अपने स्थान पर VoLTE सेवा की उपलब्धता के बारे में एक पाठ संदेश प्राप्त कर रहे हैं।जिन शहरों में बीएसएनएल VoLTE सेवा प्रदान कर रहा है, वह गांधीधाम और अंजार है, लेकिन यह जल्द ही गुजरात सर्कल में उपलब्ध होने की उम्मीद है।

    यह कहते हुए कि, बीएसएनएल देश के अन्य हिस्सों में भी VoLTE सेवा प्रदान कर रहा है, लेकिन टेल्को द्वारा सरकार से 4 जी स्पेक्ट्रम प्राप्त करने के बाद सेवा का सार्वजनिक रोलआउट अगली तिमाही के दौरान होने की उम्मीद है।

    4G सिम अपग्रेड पर मिलेगा 2 GB बोनस डाटा :

    बीएसएनएल ने हाल ही में 4G बाज़ार में प्रवेश किया है जहां पहले से ही निजी ऑपरेटरों की धाक है। ऐसे में ज्यादा ग्राहकों तक अपनी सुविधा को पहुँचाने के लिए और ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बीएसएनएल ने हर ऐसे ग्राहक जोकि 4G सिम के लिए अपग्रेड कर रहे है, उन्हें बीएसएनएल फ्री 2 GB बोनस डाटा प्रदान कर रहा है।

    बीएसएनएल ग्राहकों को मुफ्त मिल रहा ब्रॉडबैंड ट्रायल:

    बीएसएनएल द्वारा अपने लैंडलाइन ग्राहकों के लिए पेश किये जा रहे इस ऑफर के अंतर्गत मुफ्त ब्रॉडबैंड ट्रायल प्रदान किया जायेगा और उन्हें कोई शुल्क नहीं चुकाना होगा। बीएसएनएल की वेबसाइट के अनुसार, ब्रॉडबैंड ट्रायल सक्रियता 31 मार्च, 2019 तक मान्य होगी और तब तक, ये उपयोगकर्ता बीएसएनएल ब्रॉडबैंड के सभी लाभों का आनंद लेंगे। बीएसएनएल ने यह भी घोषणा की है कि वर्तमान में, यह योजना देश भर के सभी ग्राहकों के लिए उपलब्ध है।

    By विकास सिंह

    विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *