Sun. Jul 21st, 2024
    बीएसएनएल

    सार्वजनिक क्षेत्र की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बीएसएनएल ने अपने नए ग्राहकों के लिए वैकल्पिक केवाईसी की सुविधा शुरू कर दी है।

    इस बाबत जानकारी देते हुए बीएसएनएल के चेयरमैन और मैनिजिंग डायरेक्टर अनुपम श्रीवास्तव ने मीडिया को बताया है कि बीएसएनएल ने इस सुविधा के संबंध में सारी जानकारी टेलीकॉम विभाग को दे दी है।

    श्रीवास्तव के अनुसार बीएसएनएल ने अपने सभी सर्कलों में इस सेवा को सुचारु रूप से लागू कर दिया है।

    अभी कुछ दिन पहले ही देश की सभी बड़ी निजी टेलीकॉम कंपनियों ने बताया था कि उन्होने वैकल्पिक केवाईसी की सुविधा को नए ग्राहकों के लिए चालू कर दिया है। यह नयी केवाईसी सेवा आधार आधारित पुरानी केवाईसी सेवा की जगह लेगी।

    मालूम हो कि अभी कुछ हफ्ते पहले ही सुप्रीम कोर्ट ने आधार के संदर्भ में एक आदेश जारी करते हुए कहा था कि कोई भी निजी कंपनी अपने ग्राहकों से आधार कि जानकारी अनिवार्य तौर पर नहीं मांग सकती है।

    एयरटेल ने फिलहाल इस वैकल्पिक केवाईसी सुविधा को दिल्ली, यूपी पूर्व व यूपी पश्चिम सर्कल में नए ग्राहकों के लिए लागू किया है, लेकिन जल्द ही एयरटेल देश के सभी सर्कलों में नए ग्राहकों के लिए इस सुविधा को लगा कर देगा।

    इसी तरह से डॉट के निर्देशानुसार आगे बढ़ते हुए वोड़ाफोन-आइडिया ने भी अपने ग्राहकों के लिए वैकल्पिक केवाईसी सुविधा को जारी कर दिया है।

    हालाँकि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि ये सभी टेलीकॉम ऑपरेटर आधार आधारित ई-केवाईसी से कब तक अलग होंगे, जबकि इन सभी ऑपरेटरों ने सरकार वैकल्पिक केवाईसी के सुचारु रूप से लागू हो जाने तक आधार आधारित केवाईसी को बनाए रखने का अनुरोध किया है।

    दूरसंचार विभाग और यूआईडीएआई दोनों ही इन टेलीकॉम ऑपरेटरों की सुविधा के लिए लगातार इनके संपर्क में हैं।

    यह भी पढ़ें: क्या आधार KYC से जुड़े 50 करोड़ मोबाइल नंबर बंद हो जायेंगे?

    यह भी पढ़ें: यूआईडीएआई ने पेमेंट कंपनियों को आधार सम्बंधित सेवाएं रोकने को कहा

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *