Fri. Sep 30th, 2022
    बिहार मंत्रिमंडल में विभागों का आवंटन, मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने रखा गृह और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने स्वास्थ्य

    बिहार में नीतीश कुमार कैबिनेट के सदस्यों के बीच मंगलवार को विभागों का आवंटन किया गया। इस कैबिनेट विस्तार में मुख्यमंत्री के पास गृह विभाग जैसे प्रमुख विभाग है। पिछली सरकार में भी कुमार ने इन प्रमुख विभाग रखे थे।

    राज्यपाल फागू चौहान ने पटना में 31 सदस्यीय मंत्रिपरिषद को शपथ दिलाई इसमें राष्ट्रीय जनता दल के 16 और जनता दल यूनाइटेड के 11 मंत्रियों को शामिल किया गया है।

    मुख्यमंत्री के पास शेष अन्य विभाग सामान्य प्रशासन, मंत्रिमंडल सचिवालय, निगरानी और निर्वाचन हैं इसके अलावा ऐसे सभी विभाग जो मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों के बीच आवंटित नहीं किया गया है।

    उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव को स्वास्थ्य, पथ निर्माण, नगर विकास एवं आवास और ग्रामीण कार्य सौंपा गया है। 

    जनता दल यूनाइटेड के विजय कुमार चौधरी को वित्त विभाग, वाणिज्य कर और संसदीय कार्य मिला है। वहीं जदयू ने अपने मंत्रियों को पिछली सरकार से बरकरार रखा है। 

    कांग्रेस इस महागठबंधन का हिस्सा है। कांग्रेस का प्रतिनिधित्व एक दलित और एक मुसलमान कर रहे  हैं। कांग्रेस से अफाक आलम और मुरारी गौतम को मंत्री परिषद में जगह मिली है। जीतन राम मांझी के हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के संतोष कुमार सुमन और एक निर्दलीय विधायक सुमित कुमार सिंह को भी महागठबंधन सरकार में मंत्री पद दिया गया है।

    16 विधायकों वाले वाम दलों ने सरकार का हिस्सा नहीं बनने का फैसला किया है। नीतीश कुमार 10 अगस्त को बिहार के मुख्यमंत्री और तेजस्वी प्रसाद ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी।

    राष्ट्रीय जनता दल ने यादवों को महत्वपूर्ण संख्या में सात सीटें दी हैं जिनमें पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव भी शामिल हैं। तेज प्रताप यादव राज्य के नए पर्यावरण मंत्री बनाये गए हैं।

    राजद कोटे से भूमिहार एमएलसी कार्तिकेय सिंह और राजपूत सुधाकर सिंह थे। सुधाकर सिंह के पिता जगदानंद सिंह वर्तमान में राजद प्रदेश अध्यक्ष हैं।

    मंत्रिमंडल में तीन महिला शामिल है। जदयू कोटे से लेशी सिंह और शीला मंडल को जगह मिली है। वहीं राजद कोटे से अनीता देवी हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.