रविवार, अप्रैल 5, 2020

बिहार : पर्यावरण जागरूकता के लिए मानव श्रृंखला में जुड़ेंगे लगभग चार करोड़ लोग

Must Read

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए।...

पर्यावरण के प्रति लोगों में जागरूकता के लिए 19 जनवरी को बिहार में बनने वाली मानव श्रंखला की अंतिम तैयारी में अधिकारी जुटे हुए हैं। अधिकारियों ने लोगों से इस मानव श्रंखला में शामिल होने की अपील की है और दावा किया है कि इसमें लगभग चार करोड़ लोग शामिल होंगे।

अपराह्न 11.30 से 12 बजे तक बनने वाली यह मानव श्रंखला पर्यावरण के प्रति जागरूकता को प्रदर्शित करेगी। जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत बनने वाली इस मानव श्रंखला के 16,351 किलोमीटर लंबी होने की उम्मीद है।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आऱ क़े महाजन ने बताया कि “करीब 16,351 किमी लंबाई की मानव श्रंखला बनेगी, जिसमें 5,052 किमी मुख्य मार्ग की लंबाई होगी, और 11,299 किमी उपमार्ग की लंबाई होगी। दो हजार लोग प्रति किलोमीटर की दर से 4 करोड़ 27 लाख की संख्या होगी।”

उल्लेखनीय है कि इससे पहले बिहार में शराबबंदी को लेकर जनजागरूकता अभियान के तहत 21 जनवरी, 2017 को तथा 21 जनवरी, 2018 को दहेज और बाल विवाह के खिलाफ भी मानव श्रंखला बनाई गई थी।

19 जनवरी को बनने वाली राज्यव्यापी मानव श्रंखला के लिए पटना में गांधी मैदान में मानव श्रंखला के प्रस्थान बिन्दु होगी। गांधी मैदान से चारों दिशाओं में मानव श्रंखला का प्रस्थान होगा, जो एक दूसरे से जुड़ते हुए राज्य के सभी जिले आपस में श्रंखलाबद्घ होंगे। गांधी मैदान में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित कई मंत्री एक दूसरे के हाथ से हाथ थामे खड़ा रहेंगे।

सभी जिलाधिकारियों को यातायात के सुलभ संचालन के निर्देश दिए गए हैं। जिलाधिकारियों को मानव श्रंखला में भाग लेने से लेकर उनके सकुशल घर वापसी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। मानव श्रंखला के दौरान राज्यभर में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध करने के निर्देश दिए गए हैंे।

रविवार का दिन होने के बावजूद स्कूल और सभी सरकारी कार्यालय खुले रहेंगे। कक्षा एक से चार के बच्चे स्कूल की चारदीवारी में ही मानव श्रंखला बनाएंगे। सड़कों के बाई ओर खड़ा होने के लिए ही स्थान को चिन्हित किया जा रहा है। प्रति किलोमीटर पर पेयजल की व्यवस्था होगी। मानव श्रंखला में अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी हो, इसके लिये माइक्रो प्लानिंग की गई है। मानव श्रंखला के मुख्य मार्ग और उपमार्ग की जानकारी का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में कहा कि गरीब राज्य और इतनी घनी आबादी होने के बावजूद यहां मानव श्रंखला बनाना बड़ी बात है। पर्यावरण के प्रति यहां के लोगों की यह कोशिश है, जो बहुत बड़ी श्रंखला के रूप में दिखेगा। यह मानव श्रंखला पर्यावरण के लिहाज से बहुत बड़ा रिकॉर्ड होगा। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी और अन्य पदाधिकारी एक-एक चीज का ठीक से आंकलन कर लें।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

एक विलेन 2: दिशा पटानी के बाद, तारा सुतारिया फिल्म से जुड़ी, जॉन अब्राहम और आदित्य रॉय कपूर भी होंगे फिल्म का हिस्सा

यह पहले बताया गया था कि जॉन अब्राहम 2014 की फिल्म, एक विलेन की अगली कड़ी बनाने के लिए बातचीत कर रहे थे। जनवरी...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए। 2 दिन में 16.03 करोड़...

महाराष्ट्र सरकार को कोई खतरा नहीं – कांग्रेस

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। राकांपा नेताओं ने कहा कि 26 मार्च को होने...

पीएम मोदी, राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके 78 वें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -