Sat. Apr 20th, 2024
    बिहार: उपेन्द्र कुशवाहा ने दी सुशील कुमार मोदी को आगामी लोक सभा चुनाव लड़ने की चुनौती

    राष्ट्रिय लोक समता पार्टी के प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा ने सोमवार को बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को आगामी लोक सभा चुनाव लड़ने की चुनौती दी और दावा किया कि उनकी पार्टी का एक अदना सा कार्यकर्ता भी चुनावी मुकाबले में भाजपा के दिग्गज नेता को हराने में सक्षम है।

    पूर्व केंद्रीय मंत्री ने यह टिप्पणी राज्य के भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय की एक हालिया टिप्पणी का जवाब देते हुए की, जिन्होंने कहा था कि वह उजियारपुर लोकसभा सीट से फिर से चुनाव की मांग करेंगे और साथ ही उन्होंने कुशवाहा को चुनौती देते हुए कहा था कि राजद नेता तेजस्वी यादव के छोड़ कर उनके साथ चुनाव लड़े।

    कुशवाहा ने कहा-“उनकी टिपण्णी पर क्या कहूँ। उनकी पार्टी के सबसे वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी चुनाव लड़ने और विधान परिषद मार्ग चुनने से कतराते रहे हैं। मैं मोदी को चुनाव लड़ने की चुनौती देता हूँ। यहां तक कि आरएलएसपी का एक अदना सा कार्यकर्ता उन्हें हराने में सक्षम है। बता दें कि डिप्टी सीएम और उनकी पार्टी ने इस चुनौती को स्वीकार करने दे।”

    हाल ही में, कुशवाहा ने मोदी पर अपने विधायकों को अवैध शिकार करने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मदद करने का आरोप लगाया था, जबकि उनकी पार्टी अभी भी एनडीए में थी। राज्य विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान, आरएलएसपी के दोनों विधायकों ने डिप्टी सीएम के निवास पर आयोजित भाजपा की बैठक में भाग लेने पर कई लोगों का ध्यान अपनी और खीचा था।

    आरएलएसपी के दो विधायकों ललन पासवान और सुधांशु शेखर ने पक्ष बदलने के लिए कुशवाहा के फैसले से खुद को दूर कर लिया और घोषणा की कि वे चुनाव आयोग से एक अलग समूह के रूप में मान्यता प्राप्त करेंगे।

    राज्य में अल्पसंख्यक समुदाय के कम से कम 10 उम्मीदवारों को मैदान में लाने के लिए एनडीए और महागठबंधन दोनों से आग्रह करने वाले कई मुस्लिम संगठनों के बारे में एक सवाल का जवाब देते हुए, कुशवाहा ने कहा कि भले ही भाजपा के नेतृत्व वाला गठबंधन सहमत हो प्रस्ताव में, अल्पसंख्यक किसी पार्टी या उसके गठबंधन सहयोगियों को वोट नहीं देंगे, जो राम मंदिर जैसे मुद्दों को चुनावी मुद्दा बनाता है।

    यह देखते हुए कि नई दिल्ली का मार्ग बिहार से होकर गुजरेगा, आरएलएसपी प्रमुख ने कहा कि महागठबंधन केंद्र में दो-तिहाई बहुमत के साथ सत्ता में आएगा।

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *