बालाकोट हवाई हमले से कोई नुकसान नहीं हुआ: ‘दुरुस्त और स्वस्थ’ मसूद अज़हर

मसूद अज़हर

जैश ए मोहम्मद ने अपने संगठन के कथित कॉलम अल कलाम ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर मसूद अज़हर के नेतृत्व वाले समूह से हारने के डर से फर्जी खबरे फैलाने का आरोप लगाया है। यह कॉलम जेईएम का सरगना मसूद अज़हर सादी के नाम से लिखता है।

इस कॉलम में कहा गया है कि “सभी जिन्दा है और सब ठीक है।” कॉलम में बालाकोट में हवाई हमले पीएम मोदी के    दावे को खारिज कर दिया है कि एयरस्ट्राइक से भारी नुकसान हुआ है।

सूत्रों के अनुसार यह बताना मुश्किल है कि मसूद अज़हर ने इस कॉलम को लिखा है हालाकिं साप्ताहिक अखबार अल कलाम जेईएम का मुखपत्र कहा जाता है। रिपोर्ट के मुताबिक “जेईएम के प्रमुख का स्वास्थ्य ठीक है।” इस बाबत उसमे नरेंद्र मोदी को अपने स्वस्थ होने का प्रमाण देने के लिए चुनौती दी गयी है।”

इसमें कहा गया कि “मैं पूरी तरह स्वस्थ हूँ। मैं नरेंद्र मोदी को तीरंदाज़ी और शूटिंग प्रतियोगिता करने की चुनौती देता हूँ। इससे साबित हो जायेगा कि मैं उससे ज्यादा स्वस्थ है। वैश्विक स्तर पर उसके स्वास्थ्य को लेकर अफवाहे उसके खिलाफ केवल एक साजिश है।”

अज़हर ने उस कॉलम में लिखा कि “मैं पूरी तरह फिट हूँ। मेरी किडनी और लिवर ठीक है। जेईएम पिछले 17 वर्षों से न तो अस्पताल गया है और न ही किसी डॉक्टर से सलाह ली है। उसने अपने अच्छे स्वास्थ्य के लिए क़ुरान के प्रभावित आहार की सराहना की, जो उसे हाइपरटेंशन और डायबिटीज जैसी बिमारियों से मुक्त रखती है।”

इस कॉलम में पुलवामा आतंकी हमले को ‘स्वतंत्रता आंदोलन’ करार दिया था। मसूद अज़हर ने कहा कि “फियादीन हमलावर आदिल अहमद डार ने कश्मीरियों के जहन में आग लगा दी है और यह जल्दी नहीं बुझेगी। यह स्वतंत्रता आंदोलन अधिक फैलेगा। इसमें घबराने की कोई बात नहीं है।”

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here