‘बटला हाउस’ ट्रेलर: जॉन अब्राहम जल्द करेंगे देश के इस एतिहासिक एनकाउंटर की सच्चाई उजागर

'बटला हाउस' ट्रेलर: जॉन अब्राहम जल्द करेंगे देश के इस एतिहासिक एनकाउंटर की सच्चाई उजागर

पिछले साल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर, ‘सत्यमेव जयते’ जैसी सुपरहिट फिल्म देने के बाद, बॉलीवुड सुपरस्टार जॉन अब्राहम एक बार फिर 15 अगस्त को सच्ची घटना पर आधारित फिल्म ‘बटला हाउस‘ लेकर आ रहे हैं। जॉन डीसीपी संजीव कुमार यादव का किरदार निभाते नजर आएंगे, जिन्होंने 2008 में हुए इस ऑपरेशन को अंजाम दिया था। फिल्म का ट्रेलर आज रिलीज़ हो गया है जिसे दर्शको से शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है।

निखिल आडवाणी द्वारा निर्देशित फिल्म बटला हाउस एनकाउंटर मामले पर आधारित है जिसे आधिकारिक रूप से ऑपरेशन बटला हाउस भी कहा जाता है। यह एनकाउंटर सितंबर 2008 में नई दिल्ली के बटला हाउस इलाके में इंडियन मुजाहिदीन के आतंकवादियों के खिलाफ हुआ था। एनकाउंटर के दौरान दो संदिग्ध आतंकवादी आतिफ अमीन और मोहम्मद साजिद मारे गए थे। दो अन्य संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार किए गए। एक भागने में सफल रहा।

जॉन ने संजीव कुमार यादव की भूमिका निभाई है, जो एनकाउंटर का नेतृत्व करते हैं। उनके कार्यों के बारे में सवाल उठाए जाते हैं। यहां तक कि उनकी पत्नी को भी एनकाउंटर पर शक है। ट्रेलर में संजीव लगातार इन सभी सवालो के जवाब देते देखे जा सकते हैं। ट्रेलर आकर्षक है और घटनाओं के बारे में आपको चौका देता है।

‘बटला हाउस’ जॉन की लगातार पांचवीं फिल्म होगी जो देशभक्ति की थीम पर आधारित है। जॉन को आखिरी बार ‘रॉ’ में रॉ एजेंट के रूप में देखा गया था। उन्होंने ‘परमानू: द स्टोरी ऑफ पोखरण’ में एक आईएएस अधिकारी की भूमिका भी निभाई। ‘फ़ोर्स 2’ में एक एसीपी के किरदार में नज़र आये थे। पिछले स्वतंत्रता दिवस पर, उन्होंने ‘सत्यमेव जयते’ में अपने हाथों में चीजें लीं। देखना यह है कि क्या जॉन इस साल भी दर्शकों को प्रभावित कर सकते हैं और उन्हें इस स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सिनेमाघरों में लुभा सकते हैं।

इस बार जॉन के लिए चीज़ें तीन गुना ज्यादा मुश्किल होने जा रही है। 15 अगस्त वाले दिन, तीन बड़ी फिल्में रिलीज़ हो रही है जिसमे ‘बटला हाउस’, अक्षय कुमार की ‘मिशन मंगल’ और प्रभास की ‘साहो’ शामिल है। दर्शक तीनो ही फिल्म के लिए उत्साहित हैं।

फिल्म में मृणाल ठाकुर, रवि किशन, मनीष चौधरी और प्रकाश राज भी अहम किरदार में दिखाई देंगे। अगले महीने आखिर पता ही चल जाएगा कि क्या ये एनकाउंटर फर्जी था?

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here