Sat. Jun 15th, 2024
    'बटला हाउस' निर्माता आनंद पंडित के लिए वास्तविक जीवन की कहानिया करती हैं फायदा

    निर्माता आनंद पंडित को बड़े परदे पर वास्तविक जीवन की कहानियो को लाने के लिए जाना जाता है। चाहे उनकी सुपरहिट ‘सत्यमेव जयते’ हो, पीएम नरेंद्र मोदी पर बायोपिक, उनकी नवीनतम फिल्म ‘बटला हाउस‘ हो या आगामी फिल्म ‘सेक्शन 375‘ को भारतीय कानून के इसी सेक्शन पर आधारित है। पंडित दृढ़ता से मानते हैं कि दर्शक वास्तविक जीवन की कहानियों से सबसे अच्छे से जुड़ते हैं।

    https://www.instagram.com/p/B1TtfGNnUkV/?utm_source=ig_web_copy_link

    उनके मुताबिक, “वास्तविक जीवन की कहानियों ने हमेशा मेरे लिए अच्छा काम किया है। वे सहज रूप से दर्शकों के साथ जुड़ने की शक्ति रखते हैं क्योंकि किरदारों की यात्रा वास्तविक, भावनात्मक और उत्साहपूर्ण होती है। यद्यपि मेरा प्रयास रहा है कि मैं शैलियों में कंटेंट बनाऊं, वास्तविक कहानियाँ हमेशा एक जीत रही हैं और मैंने इस बात को समझ लिया है कि दर्शक कहानी से संबंधित करना पसंद करते हैं।”

    https://www.instagram.com/p/B0pn1gqHoOp/?utm_source=ig_web_copy_link

    पंडित ने अपने बैनर आनंद पंडित मोशन पिक्चर्स के तहत ‘प्यार का पंचनामा 2’, ‘ग्रेट ग्रैंड मस्ती’, ‘सरकार’, ‘सत्यमेव जयते’, ‘मिसिंग’, ‘बत्ती गुल मीटर चालु’, ‘टोटल धमाल’, ‘बाजार’, ‘पीएम नरेंद्र मोदी’, ‘खानदानी शफाखाना’ और ‘बटला हाउस’ जैसी फिल्मों का निर्माण किया है।

     

    By साक्षी बंसल

    पत्रकारिता की छात्रा जिसे ख़बरों की दुनिया में रूचि है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *