गुरूवार, नवम्बर 14, 2019

बंगलादेशी बाढ़ से हालत बिगड़ी, भारत में मृतको का आंकड़ा 100 के पार पंहुचा

Must Read

इंदौर टेस्ट : भारतीय गेंदबाजों के बाद बल्लेबाजों की मजबूत शुरुआत (राउंडअप)

इंदौर, 14 नवंबर (आईएएनएस)। भारतीय गेंदबाजों ने यहां होल्कर स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले...

सेंसेक्स 170 अंक ऊपर (लीड-1)

मुंबई, 14 नवंबर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 170.42...

जेयूआई-एफ ने पाकिस्तान में कई मार्गो को बाधित किया

इस्लामाबाद, 14 नवंबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विपक्षी दल जमीयते उलेमाए इस्लाम-एफ (जेयूआई-एफ) ने प्रधानमंत्री इमरान खान के इस्तीफे की...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

बांग्लादेश की एक प्रमुख नदी ने तटबंध को तोड़ दिया था और इससे उत्तरी जिले में बाढ़ आ गयी और हजारो लोगो को अपने घरो से विस्थापित होना पड़ा है। मानसून की बारिश से बाढ़ से ग्रसित दो राज्यों में मृत्यु का आंकड़ा 97 को पार गया है। भारत के उत्तरी राज्य बिहार और असम में लाखो लोग शिविरों और बस्तियों में रह रहे हैं।

बीते हफ्ते से भारी बारिश के कारण जानवरी को भी लोगो के घरो में रहना पड़ रहा है। मानसून दक्षिण एशिया में जून से अक्टूबर तक भारी बारिश लाता है और इस मौसम में बाढ़ का खतरा रहता है। सरकार की प्रवक्ता रुकसाना बेगम ने बताया कि बांग्लादेश में बुधवार को जमुना नदी ने तटबंध को तोड़ दिया था और इसकी चपेट में 40 लोग आये थे और दो लाख से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं।

गैबंधा जिले के एक अह्दिकारी ने बताया कि “हमारे पास सूखे भोजन और पीने के पानी की पर्याप्त सप्लाई है लेकिन कई इलाकों में उच्च जलस्तर के कारण हम वहां नहीं पंहुच सकते हैं।” असम में अपर्याप्त खाद्य सप्लाई चिंता का विषय है, यहा से  करीब 58 लाख लोग अपने घरो को छोड़ने पर मजबूर हुए हैं लेकिन हालात अब सुधर रहे हैं।

असं की स्वास्थ्य और वित्त मंत्री हिमानता बिस्वा सर्मा ने कहा कि “बुधवार की रात से कोई नया इलाका बाढ़ की चपेट में नहीं आया है।” राज्य का काजीरंगा पार्क भी बाढ़ से सैलाब से डूबा हुआ है, जानवरों को ऊँचे इलाको में भेज दिया गया है और कुछ गाँवों में रह रहे हैं।

इस बाढ़ के कारण 43 जानवरों की मौत हुई है लेकिन विभागों को चिंता है कि शिकारी इसका फायदा उठाकत जानवरों को निशाना बनायेंगे। असम के वन मंत्री परिमल सुक्लाबैद्य ने कहा कि “बाढ़ के दौरान सबसे बड़ी चिंता शिकारी है, जो सींगो के लिए जानवरों की हत्या कर सकते हैं।

बिहार में मृतकों का आंकड़ा 67 को पार कर दिया है, राज्य में बाढ़ पड़ोसी मुल्क नेपाल से आई थी। राज्य के आपदा प्रबंधन अधिकारी ने बताया कि “मुझे लगता है कि इसमें मृतकों की संख्या में वृद्धि हो सकती है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

इंदौर टेस्ट : भारतीय गेंदबाजों के बाद बल्लेबाजों की मजबूत शुरुआत (राउंडअप)

इंदौर, 14 नवंबर (आईएएनएस)। भारतीय गेंदबाजों ने यहां होल्कर स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले...

सेंसेक्स 170 अंक ऊपर (लीड-1)

मुंबई, 14 नवंबर (आईएएनएस)। देश के शेयर बाजारों में गुरुवार को तेजी दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 170.42 अंकों की तेजी के साथ...

जेयूआई-एफ ने पाकिस्तान में कई मार्गो को बाधित किया

इस्लामाबाद, 14 नवंबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विपक्षी दल जमीयते उलेमाए इस्लाम-एफ (जेयूआई-एफ) ने प्रधानमंत्री इमरान खान के इस्तीफे की मांग के साथ गुरुवार को...

प्रो वॉलीबॉल लीग के साथ जुड़े दीर्घकालीन स्पांसर्स

मुम्बई, 14 नवंबर (आईएएनएस)। प्रो वॉलीबॉल लीग (पीवीएल) के आयोजकों ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने लीग के लिए कई दीर्घकालीन स्पांसर्स के साथ...

इंदौर टेस्ट : बांग्लादेश 150 पर सिमटा, भारत की ठोस शुरुआत

इंदौर, 14 नवंबर (आईएएनएस)। भारतीय गेंदबाजों ने यहां होल्कर स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन गुरुवार को बांग्लादेश की...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -