Mon. Jun 24th, 2024
    facebook

    सैन फ्रांसिस्को, 14 मई (आईएएनएस)| फेसबुक ने अमेरिका में बाहरी कर्मियों का वेतन न्यूनतम 20 डॉलर प्रतिघंटा तक बढ़ाने का निर्णय लिया है।

    फेसबुक इसके साथ ही भारत समेत दुनियाभर में अपने अनुबंधित कर्मियों का वेतन भी इसी दर पर बढ़ाएगा।

    कंटेंट मोडरेटर और अन्य कर्मियों को अब वेतन कम से कम 18 डॉलर प्रतिघंटा की दर से मिलेगा जो पहले के वेतन से तीन डॉलर ज्यादा है।

    फेसबुक में बाहरी वेंडर साझेदारों द्वारा नौकरी पर रखे गए अनुबंधित कर्मी या तो पार्ट-टाइम नौकरी करते हैं या फुल-टाइम और कंटेंट रिव्यू, सिक्योरिटी, खाना बनाने वाली, परिवहन और अन्य टीमों को अपनी सेवाएं देते हैं।

    फेसबुक वर्तमान में कम से कम 15 डॉलर प्रति घंटा की दर से भुगतान कर रहा है, 15 अवकाश, बीमारी के समय और छुट्टियों पर भी भुगतान और वैतनिक अवकाश नहीं पाने पर मातृत्व अवकाश, 4,000 डॉलर का शिशु लाभ जिससे मातृत्व अवकाश लेने में सहूलियत हो।

    फेसबुक के मानव संसाधन विभाग के उपाध्यक्ष जेनेल गेल और स्केल्ड ऑपरेशंस के उपाध्यक्ष अरुण चंद्रा ने सोमवार को एक ब्लॉग में लिखा, “यह स्पष्ट हो गया है कि 15 डॉलर प्रतिघंटे का वेतन हमारे संचालन वाले कुछ स्थानों पर पर्याप्त नहीं है। इसके कारण सैन फ्रांसिस्को बाए क्षेत्र, न्यूयार्क शहर और वाशिंगटन डीटी में 20 डॉलर प्रतिघंटा का वेतन और सिएटल में 18 डॉलर प्रतिघंटा का वेतन किया गया है।”

    कंपनी ने यह कदम विभिन्न मीडिया संस्थानों ने फेसबुक के अनुबंधित कर्मी के तौर पर काम के दीर्घकालीन प्रभाव पर के कारण कुछ कर्मियों में पोस्ट-ट्रॉमेटिक तनाव की रिपोर्ट प्रकाशित करने के बाद उठाया है।

    फेसबुक ने कहा कि वह दुनियाभर में अपने संचालनों में वेंडर साझेदारों से अनुबंध करने के लिए काम कर रहा है।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *