Wed. Nov 30th, 2022
    गाजापट्टी

    इजराइल ने शनिवार को कहा कि गाजा के नजदीक फिलिस्तीनी हथियारबंद समूहों पर ओपन फिर की गयी थी। इससे पूर्व गाजा से दागे गए राकेट की पहचान की गयी थी इससे पूर्व इजराइल की रक्षा सेना ने ऐलान किया कि उन्होंने गाजा पट्टी से दागे गे तेन राकेट को मार गिराया था।

    इजराइल रक्षा सेना ने ट्वीटर पर लिखा कि “तीन रॉकेट्स गाजा से दागे गये थे, इसमें से दो को इरोम डॉम एरियल डिफेन्स सिस्टम से पहचान की गयी थी। यह लगातार दूसरी दफा है कि गाजा से राकेट को इजराइल के नागरिको पर दागा गया था। इस दिन की शुरुआत में इजराइल की बस्तियों पर धमाको की आवाजे सुनाई दी थी।

    स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, गाजा पट्टी पर इजराइल के सैनिको के साथ संघर्ष में 77 फिलिस्तीनी नागरिकों की मौत हो गयी थी। एक साल से अधिक समय से गाजा पट्टी पर हिंसा बढ़ी है और प्रदर्शन काफी हुआ है। फिलिस्तीनी नागरिको ने इजराइल के 12 वर्षो के गाजापट्टी पर पाबन्दी को खत्म करने के लिए साप्ताहिक प्रदर्शन किया था।

    गाजा पट्टी पर मूल जरूरतों को पूरा करने के लिए 20 लाख लोग संघर्ष कर रहे हैं। इजराइल की सेना के साथ संघर्ष में करीब 270 नागरिकों की मौत हुई थी और हजारो लोग घायल हुए थे। दशको से इजराइल और फिलिस्तीन के बीच संघर्ष का दौर जारी है।

    गाजा या सीमा क्षेत्र में इजराइल द्वारा लगाई आग से कम से कम 302 फिलिस्तीनी नागरिको की मौत हुई थी। तब से बहुमत प्रदर्शनों या झड़पों का सिलसिला शुरू हो गया था। इसी अवधि में गाजा से संबंधित हिंसा में सात इजराइल के नागरिको की भी मौत हुई थी।

    हाल के महीनों में संयुक्त राष्ट्र और मिस्र के अधिकारियों ने मध्यस्थता से इजराइल और गाजा के इस्लामी शासकों हमास के बीच अनौपचारिक संघर्ष को मुकम्मल किया था और इसके बाद प्रदर्शनों में काफी गिरावट आई थी।गाजा में इजराइल और हमास ने 2008 से तीन युद्ध लड़े हैं।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *